Tuesday, May 24, 2022

hindinews11

HomeTeach & GadgetWithout Internet UPI Payment : अब बगैर इंटरनेट कर सकते है यूपीआई...

Without Internet UPI Payment : अब बगैर इंटरनेट कर सकते है यूपीआई पेमेंट, यह है आसान तरीका

Without Internet UPI Payment : इंटरनेट के बिना भी अब यूपीआई पेमेंट किया जा सकता है। यह सुविधा लगभग हर नेटवर्क प्रदान करते हैं। ऐसे में जानकारी न होने की वजह से कई बार हम मुश्किल में फंस जाते हैं। लेकिन आज हम जानेंगे कि कैसे बिना इंटरनेट के पेमेंट किया जा सकता है।

इंटरनेट कनेक्टिविटी सही न होने की वजह से कई बार हमें यूपीआई पेमेंट में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में रिजर्व बैक ऑफ इंडिया लोगों की इस मुश्किल को खत्म करता है। 123पे नाम की यूपीआई पेमेंट सर्विस की मदद से डिजिटल पेमेंट किया जा सकता है। यह सुविधा फोन पर इंटरनेट नहीं होने पर भी किया जा सकता है। डिजिटल पेमेंट की यह सुविधा 40 करोड़ से ज्यादा फीचर फोन से यह पेमेंट किया जा सकता है।

Without Internet UPI Payment : अब बगैर इंटरनेट कर सकते है यूपीआई पेमेंट, यह है आसान तरीका

यह है पेमेंट की प्रोसेस

Without Internet UPI Payment : बगैर इंटरनेट के एक कॉल की मदद से डिजिटल पेमेंट किया जा सकता है। जिसके लिए आपको अपने फोन से इस नम्बर पर 08045163666 कॉल करना होगा। कॉल शुरू होने पर भाषा चुने। पैसे ट्रांसफर करने के लिए 1 दबाएं। आईव्हीआर निर्देश का पालन करते हुए बैंक सलेक्ट करें। एक बार फिर से अपने फोन नंबर का इस्‍तेमाल करके पेमेंट को जारी रखने के लिए ‘1 दबाएं। मोबाइल नम्बर एंटर करें। बताई गई की प्रेस करके फोन नम्बर को कंफर्म करें। इसके बाद जो पैसा भेजना चाहते हैं उसे टाइप करें। आखिरी में ट्रांजेक्शन पूरा करने के लिए अपना यूपीआई पिन दर्ज करें। आपका पैसा ट्रांसफर।

पेमेंट का यह सिस्टम आ जाने से आम लोगों को एक राहत भरी बात कही जा सकती हैं। क्योंकि कई एरिया ऐसे होते हैं जहां इंटरनेट बहुत ही कम काम करता है। ऐसे में इस वॉयस पेमेंट सिस्टम का उपयोग बिलो का भुगतान, गाडियों के फास्टैग रिचार्ज, मोबाइल बिल्स, आकाउंट बैलेंस आदि में किया जा सकता है।

इस डिजिटल पेमेंट की जानकारी के लिए 247 हेल्पलाइन की भी शुरूआत की गई है। जिसे नेशनल पेमेंट्स कार्पोरेशन ऑफ इंडिया सेटअप किया है। डिजीसाथी नाम की यह हेल्पलाइन वेबसाइट व चैटबॉट के जरिए यूजर्स के सवालों का जवाब दिया जाएगा। जिन्हें यह डिजिटिल सुविधा का इस्तेमाल करने में दिक्कत हो रही है।

साल 2016 में हुई शुरूआत

मीडिया रिपोर्ट की माने तो वायस पेमेंट सिस्टम की शुरूआत साल 2016 में की गई थी। जो अब काफी लोकप्रिय है। एक बड़ा तपका इस पेमेंट सिस्टम का इस्तेमाल करता है। इस पेमेंट सिस्टम को नेशनल पेमेंट्स कार्पोरेशन ऑफ इंडिया ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया एवं इंडियन बैंक एसोसिएशन के साथ मिलकर तैयार किया है। इस पेमेंट सिस्टम के तहत यूजर के पास एक खास यूनिक आईडी होती है। जिसकी मदद से पेमेंट किया जा सकता है। यह पेमेंट आप्शन आज लोगों की फेवरेट लिस्ट में शुमार हैं। एक रिपोर्ट की माने तो 8.26 लाख करोड़ रूपए ाक 4.52 अरब ट्रांजैक्शन अब तक किए गए है।

Also Read- भक्ति भाव से महाशिवरात्रि पर करें यह उपाय, जाग उठेगा सोया भाग्य पूर्ण होगी हर मनोकामनाएं

Also Read- Chaitra Navratri 2022 Date : 2 अप्रैल से लेकर 11 अप्रैल इस साल मनाया जाएगा चैत्र नवरात्रि का पर्व, जाने घट स्थापना मुर्हूत

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular