EWS सार्टिफिकेट बनवाने क्या है पात्रता, कहां करें आवेदन, किन डाक्यूमेंट्स की होती जाने जरूरत, जाने

EWS सार्टिफिकेट बनवाने क्या है पात्रता, कहां करें आवेदन, किन डाक्यूमेंट्स की होती जाने जरूरत, जाने

यदि आप शासकीय नौकरी की तैयारी कर रहे है व जनरल कैटेगरी से आते हैं। तो ईडल्ब्यूएस सार्टिफिकेट (EWS) बनवा लीजिए। यह सार्टिफिकेट 10 फीसदी का आरक्षण देता है। इस सार्टिफिकेट की मदद से आर्थिक आधार पर आरक्षण मिल जाता है। जिससे शासकीय नौकरी में कॉम्पिटिशन की राह थोड़ी आसान हो जाती हैं। ईडब्लूएस सार्टिफिकेट सरकारी नौकरी के अलावा कॉलेज एडमिशन में भी काम आता है।

ईडब्लूएस सार्टिफिकेट बनवाने के लिए कुछ पात्रता शर्ते रखी गई है। यदि आप इन पात्रता को पूरी करते हैं तो आपका भी यह सार्टिफिकेट बन जाएगा। यह सार्टिफिकेट बनते ही 10 फीसदी का आरक्षण आपको भी मिलने लगेगा। ऐसे में ईडब्लूएस सार्टिफिकेट बनवाने की क्या पात्रता है, यह कैसे बनता हैं। किन-किन डाक्यूमेंट की जरूरत होती हैं चलिए जानते हैं।

EWS सार्टिफिकेट का फुल फार्म

ईडब्लूएस सार्टिफिकेट का फुल इकोनॉमिकली वीकर सेक्शन (economically worker section) है। जिसे केन्द्र सरकार द्वारा साल 2019 में संविधान में संशोधन करके 10 फीसदी का आरक्षण का प्रावधान रखा था।

EWS सार्टिफिकेट बनवाने क्या है पात्रता, कहां करें आवेदन, किन डाक्यूमेंट्स की होती जाने जरूरत, जाने

कौन बनवा सकता है EWS सार्टिफिकेट

केन्द्र सरकार ने ईडब्लूएस सार्टिफिकेट बनवाने के लिए कुछ पात्रता यानी कि क्राइटेरिया रखी हैं। नीचे दी गई पात्रता को यदि आप पूरा करते हैं तो आप भी सार्टिफिकेट बनवा सकते हैं।

यदि आप जनरल कटेगरी से है और किसी अन्य प्रकार का आरक्षण न ले रहे हो।

साल में परिवार की आय 8 लाख रूपए से कम हो। परिवार से मतलब है माता-पिता, पति-पत्नी बच्चे व 18 साल से छोटे भाई-बहन।

5 एकड़ से ज्यादा किसी भी लोकेशन में कृषि योग्य भूमि न हो।

हजार क्वायर फुट से ज्यादा रेसिडेन्शियल फ्लैट न हो।

यदि शहर में रहते है तो 100 वर्ग गज से ज्यादा का प्लाट न हो।

यदि गैर शहरी क्षेत्र से हैं तो 200 वर्ग गज से ज्यादा रेसिडेन्शियल प्लाट न हो।

कैसे बनेगा EWS सार्टिफिकेट

EWS सर्टिफिकेट तैयार कराने के लिए आपको अपने लोकल सरकारी कार्यालय जैसे तहसील अथवा कलेक्ट्रेट से अपनी आय का प्रमाण पत्र बनवाना होगा। तभी आप ईडब्लूएस सार्टिफिकेट आरक्षण का फायदा ले पाएंगे। जिसे ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन दोनों मोड में ही बनवाया जा सकता है। हालांकि आपको अपने डॉक्यूमेंट्स की हार्डकॉपी भी संबंधित ऑफिस में सबमिट करनी होती है।

यह है EWS सार्टिफिकेट बनवाने प्रक्रिया

EWS सार्टिफिकेट बनवाने के लिए सबसे पहले नजदीकी तहसील अथवा कलेक्टर कार्यालय में जाकर फार्म में।
फार्म में दी गई जानकारी को विधिवत भरें।

फार्म के साथ नोटेरी किया हुआ आय प्रमाण पत्र संलग्न करें।

फार्म के साथ मांगे गए सभी जरूरी दस्तावेजों की फोटोकॉपी संलग्न करें।

फिर पटवारी अपने रिकार्ड्स से आपकी प्रॉपर्टी होल्डिंग को वेरीफाई करेगा।

वेरीफिकेशन के बाद सभी दस्तावेजों को तहसीलदार या कलेक्टर से वेरीफाई करवाकर फॉर्म साइन करवा लें।
इस तरह आपका ईडब्लूएस सर्टिफिकेट बनकर तैयार हो जाएगा।

कितना लगेगा खर्च

EWS सार्टिफिकेट बनवाने के लिए राज्य सरकारें कुछ फीस निर्धारित की हैं। जो अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग हो सकती हैं। जो बेहद कम होती हैं। रिपोर्ट की माने तो कुछ राज्यों में 10 रूपए से लेकर 35 रूपए तक की फीस ली जाती है।

EWS सार्टिफिकेट से जुड़ी प्रमुख बातें

EWS सार्टिफिकेट एक साल के लिए तैयार किया जाता है। जो कि 1 अप्रैल से लेकर 31 मार्च तक वैलिड रहता हैं। सालभर की अवधि पूरी होने पर इसे दोबारा बनवाना पड़ता है।
ईडब्लूएस सार्टिफिकेट का लाभ सरकारी नौकरी अथवा कॉलेज में रिजर्व सीटों पर ही लिया जा सकता है।

इन डाक्यूमेंट की होती है जरूरत

EWS सार्टिफिकेट बनवाने के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक स्टेटमेंट, आय प्रमाण पत्र, राशन कार्ड/बीपीएल कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, प्रॉपर्टी से जुड़े दस्तावेज, मूल निवास प्रमाण पत्र शामिल हैं।

Also Read- Bank Of India Vacancy : में निकली इन पदों पर भारी वैकेंसी, जाने कब से शुरू हो रहा आवेदन व आखिरी डेट

Also Read- Maruti Suzuki ने आज XL6 के अपडेट मॉडल को किया लांच, जाने कीमत व फीचर्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.