Singrauli News : 75 लाख एलुमिनियम चोरी मामले का पर्दाफाश, पुलिस कर्मी ही निकला मास्टरमाइंड

Singrauli News : 75 लाख एलुमिनियम चोरी मामले का पर्दाफाश, पुलिस कर्मी ही निकला मास्टरमाइंड

Singrauli News : 75 lakh aluminum theft case busted, police personnel turned out to be the mastermind

Singrauli News : सिंगरौली जिले के बरगवां में स्थित हिंडालको कंपनी से गुजरात के लिए रवाना किया गया 75 लाख रुपए कीमत का एलुमिनियम बीच रास्ते से चोरी करने के मामले में एक पुलिसकर्मी निकला मास्टरमाइंड जानकारी के मुताबिक खुटार पुलिस चौकी के परसौना पुलिस सहायता केंद्र में पदस्थ पुलिसकर्मी अनूप यादव ने अपने साथी कबाड़ माफिया जितेंद्र मौर्य प्रभात सिंह व एक अन्य के साथ मिलकर इसका प्लान तैयार किया था। एलमुनियम चोरी इस हाई प्रोफाइल मामले में मामले की जांच एसपी वीरेंद्र सिंह से कराई तो पता चला कि मोरवा कबाड़ माफिया जीतेंद्र मौर्य के साथ मिलकर अनूप यादव ने इसे अंजाम दिया था जांच में पुलिस कर्मी के शामिल होने के बाद एसपी ने तत्काल आरोपी को आरक्षक को निलंबित कर दिया है। साथ ही इस मामले में सह आरोपी बनाए जाने के निर्देश दिए गए हैं।

क्या था पूरा मामला

24 अगस्त को सिंगरौली जिले के बरगवां में स्थित हिंडालको कंपनी 75 लाख रुपए मूल्य का 28 टन एल्यूमिनियम लोड कर गुजरात के लिए रवाना किया गया था निर्धारित तिथि में गुजरात नहीं पहुंचने पर ट्रांसपोर्टर ने इस मामले की थाने में शिकायत दर्ज कराई थी पुलिस की छानबीन झूठी तो पता चला कि मोरवा थाना क्षेत्र के खनहना स्थित जितेन्द्र मौर्य कबाड़ी को कुछ माल बेच दिया गया था इसके बाद बचा हुआ माल कानपुर ले जाकर बेंचा गया था पुलिस ने छापा मारते हुए खनहना और कानपुर से कुछ माल जप्त कर लिया गया था जितेंद्र कबाड़ी को गिरफ्तार करते हुए पुलिस ने अन्य लोगों की तलाश में जुटी थी। तो पता चला कि जितेंद्र कबाड़ी के साथ एक पुलिसकर्मी अनूप यादव प्लान बनाया था लिहाजा पुलिस ने आरोपी बनाते हुए मामले में शामिल किया गया है।

नहीं हुई अभी आरोपी पुलिसकर्मी की गिरफ्तारी

हिंडालको एल्यूमिनियम चोरी के मामले में आरोपी बनाए गए खुटार चौकी में पदस्थ आरक्षक अनूप यादव घटना के बाद मौके से फरार है। थाना पुलिस ने आरक्षक को बरगवां पुलिस ने आरोपी बनाते हुए तलाश प्रारंभ कर दी गई है।

सिंगरौली जिले के कई कबाड़ी से है पुलिस के याराना संबंध

सिंगरौली जिले में व्यापक मात्रा में कबाड़ी पाए जाते हैं क्योंकि इस क्षेत्र में बड़े संस्थान एनटीपीसी एनसीएल सहित कई कंपनियां हैं जो चोरी का माल खरीदने में यह कबाड़ी काफी माहिर होते हैं बड़ी-बड़ी कंपनियों से चोर लोहे के गाटर सहित कई अन्य सामान चोरी वाहन लाते हैं और उन गाड़ियों को औने पौने दाम में बेच देते हैं लेकिन इन कबाड़ी की सुरक्षा में मध्य प्रदेश पुलिस की कई जवान तैनात रहते हैं जिसके चलते यह अधिकतर पुलिस की पकड़ से बाहर रहते हैं। मामला हाईप्रोफाइल होने के बाद इन पर गाज गिरी है। सिंगरौली जिले में बलियारी में मुल्ला कबाड़ी जयंत में मोरबा में कई कबाड़ी है जो कि काफी समय से चोरी का माल खरीदते हैं लेकिन पुलिस इन पर कार्रवाई नहीं करती।

Also Read- Aryan Khan पर इस एक्ट्रेस ने लुटाया सरेआम प्यार, शेयर की ऐसी पोस्ट जिसकी हो रही अब चर्चा

Also Read- Small Business Idea : 10 हजार के बजट में शुरू करें ये बिजनेस, हर मौसम करें तगड़ी कमाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *