hindinews11.com

Rewa News : पार्षदी के चुनाव में 14 वोट से मिली हार, आया हार्ट अटैक हो गई मौत

Rewa News : पार्षदी चुनाव ने एक परिवार को जीवनभर का गम दे गया। महज 14 वोट से मिली हार की वजह से कांग्रेस पार्षद प्रत्याशी को आया हार्ट अटैक। जिससे उनकी मौत हो गई।

रीवा जिले के हनुमना नगर परिषद से पार्षद चुनाव हारने के बाद कांग्रेस प्रत्याशी को हार्ट अटैक आ गया। जिसके बाद कांग्रेस प्रत्याशी हरिनारायण गुप्ता की मौत हो गई है। वार्ड क्रमांक 9 से कांग्रेस की टिकट पर वो चुनाव मैदान में थे। हरिनारायण गुप्ता निर्दलीय प्रत्याशी से 14 मतों से हार गए थे जिसके बाद हार की खबर लगते ही उन्हे हार्ट अटैक आ गया और उनकी मौत हो गई।

जिले के हनुमना नगर परिषद से पार्षदी का चुनाव हारने के बाद कांग्रेस प्रत्याशी की रविवार की दोपहर हार्टअटैक से मौत हो गई है। वार्ड क्रमांक 9 से कांग्रेस की टिकट पर हरिनारायण गुप्ता चुनाव मैदान में उतरे थे। उनको निर्दलीय प्रत्याशी अखिलेश गुप्ता ने 14 मतों से पराजित कर दिया था। जिसका सदमा हरिनारायण नहीं बर्दाश्त कर पाए।मतगणना केन्द्र के अंदर ही अचानक उनके सीने में दर्द उठा जिसके बाद साथ में मौजूद अन्य साथियों ने घटना देख परिजनों को जानकारी दी। वहीं दूसरी तरफ कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ता उन्हे अस्पताल लेकर आए जहां पर उनकी मौत हो गई। हरिनारायण गुप्ता पार्टी के 15 वर्ष पुराने कार्यकर्ता थे। उन्होंने हनुमना कस्बे में पार्टी को स्थापित किया था।

कांग्रेस ने हनुमना मंडलम अध्यक्ष हरिनारायण गुप्ता को वार्ड क्रमांक 9 से प्रत्याशी बनाया था। यहां भाजपा से ओमप्रकाश गुप्ता मैदान में थे। 17 जुलाई को मतगणना के समय निर्दलीय उम्मीदवार अखिलेश गुप्ता के जीत की खबर मिलते ही हरिनारायण को गहरा सदमा लगा और उन्हे हार्ट अटैक आ गया जिनकी अस्पताल पहुंचते ही मौत हो गई।

हनुमना नगर परिषद का अध्यक्ष पद अनारक्षित के लिए रिजर्व है। ऐसे में अध्यक्ष पद की दौड़ में हरिनारायण गुप्ता का नाम चल रहा था। परिणाम आने के बाद हनुमना नगर परिषद में कांग्रेस को एकतरफा जीत भी मिल गई, लेकिन खुद हरिनारायण हार गए। इसी बात का मलाल हरिनारायण को था। जिससे उनका दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।

Also Read- Road Accident : सड़क पर फिसली बाइक गिरा युवक, पीछे से आ गया ट्रक, फिर ऐसे युवक ने बचाई खुद की जान

Also Read- Hemang Resources Share ने साल 2022 में दिया छप्परफाड़ रिटर्न, 1 लाख निवेश को बनाया दिया 13 लाख

Leave a Comment