Nag Panchami के दिन भूल से भी न करें जमीन की खुदाई सहित ये 3 काम, मिलते है अशुभ परिणाम

Nag Panchami के दिन भूल से भी न करें जमीन की खुदाई सहित ये 3 काम, मिलते है अशुभ परिणाम

नाग पंचमी (Nag Panchami) का त्यौहार देशभर में धूमधाम से 2 अगस्त को मनाया जाएगा। यह पर्व पूरी तरह से नाग देवताओं को समर्पित है। इस दिन लोग विधि-विधान से नाग देवताओं की पूजा-अर्चना करते हैं। उन्हें दूध पिलाते हैं। घरों में नाग देवताओं की आकृति बनाते हैं। घर में कपास के दानों को छिड़कते हैं। घर के समीप स्थित बामियों पर नाग देवता की पूजा करते हैं। उन्हें दूध पिलाते हैं। नाग पंचमी का त्यौहार हर साल सावन माह की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस साल पंचमी तिथि की शुरूआत 2 अगस्त की अल सुबह 5.13 बजे होगी। जो अगले दिन 3 अगस्त की अल सुबह समाप्त होगी।

हिन्दू धर्म में नाग को भगवान का रूवरूप माना गया है। इसलिए इनकी विधिपूर्वक पूजा की जाती है। मान्यता है कि नागों की पूजा करने से मनवांछित फल की प्राप्ति होती है। नाग देवता के आर्शिवाद से व्यक्ति सालभर में सुख, समृद्धि युक्त जीवन व्यतीत करता है। घर में धन, वैभव बना रहता है। नाग पंचमी (Nag Panchami) को लेकर ढेर सारी मान्यताएं हैं। आज ऐसी ही कुछ मान्यताओं से हम आपको रूबरू कराएंगे। नाग पंचमी के दिन शास्त्रों में कुछ काम करने के लिए वर्जित किया गया है। मान्यता है कि नाग पंचमी (Nag Panchami) पर जो यह काम करता है उसे अशुभ परिणाम मिलते हैं। तो चलिए जानते है नाग पंचमी के दिन व्यक्ति कौन से काम नहीं करने चाहिए।

Nag Panchami पर भूल से भी न करें यह काम

ज्योतिषविद्ों की माने तो नाग पंचमी (Nag Panchami) के दिन लोगों को कुछ काम नहीं करने चाहिए। जैसे इस दिन जमीन की खुदाई न करें। इसके पीछे मान्यता है कि नाग पंचमी के दिन जमीन की खुदाई करने से नागों को नुकसान हो सकता है। क्योंकि यह जमीन के नीचे निवास करते हैं। पौराणिक कथाओं की माने तो नागपंचमी (Nag Panchami) के दिन किसान द्वारा हल चलाने से एक नागिन के बच्चों की मृत्यु हो गई थी। जिस वजह से नागिन गुस्से में आकर किसान के पूरे परिवार को डस लिया था। इस वजह से नागपंचमी के दिन जमीन खोदने पर मनाही है।

इन चीजों का न करें इस्तेमाल

नाग पंचमी (Nag Panchami) के दिन लोहे, तबा, कड़ाही आदि का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इस दिन सुई धागे का उपयोग भी वर्जित है। खासकर वह लोग इन चीजों का तो बिल्कुल भी उपयोग न करें जो इस दिन व्रत आदि रखते हैं।

नोट- इस आलेख में दी गई जानकारी धार्मिक आस्था एवं मान्यताओं पर आधारित है। इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। लिहाजा हिन्दून्यूज 11 इसकी पुष्टि नहीं करता है।

Also Read- GHCL Limited : 28 माह में दिया ताबड़तोड़ रिटर्न, एक लाख को बना दिया 7 लाख

Also Read- Nag Panchami पर आखिर क्यों पिलाया जाता है नागों को दूध, जाने पौराणिक प्रचलित कथा

Leave a Reply

Your email address will not be published.