hindinews11.com

MP News : अतिथि शिक्षकों के मानदेय को लेकर नई गाइड लाइन जारी, जाने नए शैक्षणिक सत्र की व्यवस्था

MP News : इंजीनियरिंग व पॉलिटेक्निक महाविद्यालयों में बतौर अतिथि शिक्षक सेवा दे रहे टीचर्स के मानदेय को लेकर सरकार ने नई गाइड लाइन जारी की है। नए शैक्षणिक सत्र में मानदेय को लेकर जो व्यवस्था बनाई गई है उस पर चलिए विस्तार से प्रकाश डालते हैं।

नए शैक्षणिक सत्र में प्रदेश सरकार द्वारा अतिथि शिक्षकों के मानदेय को लेकर एक नई गाइड लाइन जारी की गई है। गाइड लाइन यह है कि अब इन अतिथि शिक्षकों को महीने की 30 हजार रूपए सैलरी न देकर हर पीरियड के हिसाब से 400 रूपए दिए जाएंगे।

बता दें कि बीते जनवरी माह में विभाग द्वारा अतिथि शिक्षकों को फिक्स्ड सैलरी के रूप में 30,000 रूपए देना तय किया था। जो नए शैक्षणिक सत्र में लागू होना था। लेकिन अब नए शैक्षणिक सत्र के लिए एक नई गाइड लाइन जारी कर दी गई है।

रिपोर्ट की माने तो आदेश को यथावत रखते हुए पहले से काम कर रहे अतिथि शिक्षकों को प्रति पीरियड के हिसाब से 400 रूपए भुगतान किए जाएंगे। अब इस आदेश के आ जाने के बाद से अतिथि शिक्षकों के मानदेय में सीधे 40 फीसदी की गिरावट आ जाएगी। अतिथि शिक्षकों की आमदनी सीधे 40 फीसदी कम हो जाएगी। एक दिन में अधिकतम 1200 रूपए का ही भुगतान हो सकेगा। नई व्यवस्था को लेकर अतिथि विद्वानों में रोष व्याप्त है। जिसका इन्होंने विरोध करना शुरू कर दिया है। नई व्यवस्था को लेकर सोशल मीडिया में एक कैंपेन भी चलाया गया और सरकार की नई गाइड लाइन का विरोध किया गया।

अतिथि शिक्षकों का साफ कहना है कि सरकार की नई व्यवस्था से उनकी आमदनी पर सीधा फर्क पड़ेगा। उन्हें सरकारी छुट्टियों में मिलने वाले मानदेय का लाभ नहीं मिलेगा। इसके अलावा जरूरी नहीं है कि उन्हें तीन पीरियड पढ़ाने को ही मिले।

विभाग एक भुगतान दो

अतिथि शिक्षकों ने बताया कि यदि विभाग नए शिक्षकों की नियुक्ति करता है तो उन्हें 30 हजार रूपए सैलरी के रूप में देगा। जबकि पहले से पढ़ा रहे शिक्षकों को 400 रूपए प्रति पीरियड के हिसाब से भुगतान किया जाएगा। ऐसे में एक ही विभाग में दो भुगतान पूरी तरह से गलत है। क्योंकि योग्यता समान है। आगे अतिथि शिक्षक बताते हैं कि 2018 तक 275 रूपए प्रति पीरियड के हिसाब से भुगतान किए जाते थे। लेकिन इसे अब बढ़ाकर 400 रूपए कर दिया गया है।

Also Read- Rewa News : ओंकारेश्वर से दर्शन कर रीवा लौट रहे कार सवार खण्डवा में दुर्घटनाग्रस्त, 3 की मौत

Also Read- रीवा नगर निगम के 25 किमी क्षेत्र में चलेगी सिटी बसें, प्रदेश के 16 जिले हैं शामिल

Leave a Comment