Friday, November 24, 2023
HomeCrime Newslove crime : सरफिरे आशिक़ ने पहले की प्रेमिका की हत्या फिर...

love crime : सरफिरे आशिक़ ने पहले की प्रेमिका की हत्या फिर खुद ने फे़सबुक और इंस्टाग्राम पर लाइव आकर गवाई खुद की जान, जानिए पूरा मामला

सरफिरे आशिक़ ने पहले की प्रेमिका की हत्या फिर खुद ने फे़सबुक और इंस्टाग्राम पर लाइव आकर गवाई खुद की जान, जानिए पूरा मामला

प्रेमिका की गोली मारकर की हत्या : अंकित ने फे़सबुक और इंस्टाग्राम लाइव करने के बाद ख़ुदकुशी नहीं कर ली होती तो उसकी उम्र 15 जून को 22 साल हो जाती. 13 मई की शाम आत्महत्या से महज़ 23 घंटे पहले उसने अपनी कथित प्रेमिका निवेदिता की उसी पिस्तौल से हत्या कर दी जिससे उसने ख़ुद के सिर में गोली मारी.

निवेदिता सिर्फ़ 20 साल की थी. 12 मई की शाम निवेदिता को गोली मारने के बाद से अंकित फ़रार थे. उन्होंने अपना फ़ोन नंबर बंद कर लिया था. पुलिस उनकी तलाश कर ही रही थी, तभी 13 मई की शाम वे अपने सोशल मीडिया प्रोफ़ाइल पर लाइव आए. उन्होंने निवेदिता की हत्या की बात को कबूल किया. लाइव के दौरान उन्होंने एक पिस्तौल अपने सिर के पास रखी और कहा कि वो ख़ुदकुशी करने जा रहे हैं. इसके बाद लाइव बंद हो गया.

आत्महत्या एक गंभीर मनोवैज्ञानिक और सामाजिक समस्या है.

अगर आप भी तनाव से गुजर रहे हैं तो भारत सरकार की जीवनसाथी हेल्पलाइन 18002333330 से मदद ले सकते हैं. आपको अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से भी बात करनी चाहिए.

ख़ुदकुशी से ठीक पहले अंकित ने क्या किया

ख़ुदकुशी से ठीक पहले अंकित ने अपनी लोकेशन अपनी बहनों को भेजी थी. उनके परिवार वाले भी यह लाइव देख रहे थे. लिहाज़ा, उन लोगों ने रांची पुलिस से संपर्क कर यह लोकेशन शेयर कर अंकित को बचाने की गुज़ारिश की. पुलिस भी इस सूचना के बाद तत्काल तत्पर हुई, लेकिन मौक़े पर पहुंचने से पहले ही अंकित ने अपने सिर में गोली मार ली थी.

पुलिस ने रांची के कोकर इलाक़े के उस लोकेशन से ख़ून से लथपथ अंकित का शव बरामद किया. वे अपने सात भाई-बहनों में सबसे छोटे थे.

अंकित और निवेदिता के पैतृक गांव बिहार के नवादा ज़िले के दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों में थे, लेकिन नवादा शहर में उनके घर आस-पास थे. उनकी जातियां अलग थीं और सामाजिक हैसियत भी. निवेदिता रांची के इक्फ़ाई यूनिवर्सिटी में बीबीए की छात्रा थी. वो यहां के हरमू इलाक़े के एक निजी होस्टल में रहकर पढ़ाई कर रही थी. अंकित ने उसकी हत्या उसी होस्टल के पास सिर में गोली मार कर कर दी थी. इस हादसे में निवेदिता की एक सहेली भी घायल हुई जिनका इलाज चल रहा है.

निवेदिता की मौत वाले दिन क्या हुआ था

अरगोड़ा थाना (रांची) के प्रभारी विनोद कुमार ने मीडिया को बताया कि 12 मई की शाम निवेदिता को तब गोली मारी गई, जब वो अपनी एक सहेली के साथ होस्टल लौट रही थीं. अंकित पैदल ही निवेदिता के पास आए और उनके सिर में नज़दीक से गोली मार दी. इसके बाद नवेदिता को घायल अवस्था में इलाज के लिए राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

ये भी पड़े :- Business Idea : ऐसे बिजनेस जिसमे होगी बम्पर कमाई, चलेगा 12 महीने नॉनस्टॉप जल्दी करे चालू……

इस मामले में निवेदिता के पिता के बयान पर अंकित के ख़िलाफ़ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है.

विनोद कुमार ने कहा, “निवेदिता के परिजनों ने अंकित पर हत्या का शक़ जाहिर किया था. हमें भी अपनी शुरुआती जांच में सीसीटीवी फ़ुटेज के आधार पर इसके साक्ष्य मिले थे. इसलिए हमने उनकी गिरफ़्तारी के लिए अपनी एक टीम नवादा भेजी थी.”

“इसी बीच 13 मई की शाम हमें अंकित के फ़ेसबुक लाइव की सूचना मिली. पुलिस की टीम ने उनका लोकेशन खोजा. हमने वहां से अंकित की ख़ून से लथपथ लाश और हथियार बरामद की.””शुरुआती जांच से यह ख़ुदकुशी का मामला लगता है. आगे की जांच के लिए फ़ोरेंसिक और टेक्निकल टीमों की भी मदद ली जा रही है.”

दोनों ही शवों का पोस्टमॉर्टम कराने के बाद उन्हें उनके परिजनों को सौंप दिया गया है. निवेदिता के शव का पोस्टमॉर्टम 13 मई और अंकित के शव का पोस्टमॉर्टम 14 मई को कराया गया.

दोनों ही रिपोर्टों में मौत की वजहें “बुलेट इंजरी” बताई गई हैं.

यह भी पढ़िए :-Hero HF Deluxe : मात्र 7000 रूपये में घर ले जाये, सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली बाइक जानिये आकर्षक फीचर्स

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Join our Whatsapp Group