Top-10 लिस्ट से बाहर हुई साल 2021 में गजब का रिटर्न देने वाली करेंसी Doge व Shiba Inu, जाने क्या कहते है एक्सपर्ट

Top-10 लिस्ट से बाहर हुई साल 2021 में गजब का रिटर्न देने वाली करेंसी Doge व Shiba Inu, जाने क्या कहते है एक्सपर्ट

साल 20222 के शुरूआती समय से ही क्रिप्टोकरेंसियों में गिरावट का दौर जारी है। बिटकॉइन सहित तमाम क्रिप्टोकरेसियों के दामों में गिरावट देखी जा रही है। जबकि बीते साल कई बड़ी करेसियों के दामों में तगड़ा उछाल देखने को मिला था। डॉग-थीम वालीं क्रिप्‍टो Doge Coin और shiba inu coin लोकप्रियता के नए आयाम छूते हुए देखा था, लेकिन 2022 इनके लिए किसी सदमे जैसा है। Doge coin और Shiba inu coin बीते कई हफ्तों से मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में Cryptocurrency की Top-10 लिस्‍ट से बाहर हैं। ऐसे में अब सवाल यह उठ रहा है कि क्यों दोनों ही करेंसियों के दिन चले गए हैं।

CoinGecko के हाल के आंकड़ों के अनुसार DOGE व SHIB की वैल्‍यू क्रमश: 0.11डॉज व शीबा इनु करेंसियों ने साल 2021 में अच्छा रिटर्न निवेशकों को देकर जमकर पॉपुलरटी बटोरी थी। इन दोनों करेंसियों ने पिछले साल निवेशकों के इन्‍वेस्‍टमेंट को कई गुना बढ़ाकर सुर्खियां बटोरी थीं। इन दोनों करेंसियों बड़े नामों का भी समर्थन मिला है। खासतौर पर Elon Musk का, जो डॉजकॉइन को सपोर्ट करते हैं। लेकिन अभी मार्केट में इनकी वैल्‍यू नीचे बनी हुई है। DOGE और SHIB दोनों उन कीमतों से काफी नीचे हैं, पिछले साल अपनी पॉपुलैरिटी के दौरान दोनों क्रिप्‍टोकरेंसी मार्केट कैपिटलाइजेशन में Top-10 क्रिप्टो असेट्स नहीं हैं।

Top-10 लिस्ट से बाहर हुई साल 2021 में गजब का रिटर्न देने वाली करेंसी Doge व Shiba Inu, जाने क्या कहते है एक्सपर्ट

आंकड़ों की माने तो DOGE वर्तमान में 13वें नंबर पर है, जबकि मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में SHIB 15वें स्थान पर है। पिछले एक माह में इन करेंसियों की कीमतों में नजर दौड़ाई जाए तो DOGE की कीमत में 21.7 फीसदी और SHIB की कीमत में 24.9 फीसदी की गिरावट आई है। बात करें इस पूरे साल की, तो 1 जनवरी 2022 से Doge Coin की कीमत में लगभग 31.7% की गिरावट आई है, जबकि Shiba Inu की कीमत में लगभग 35.5% की गिरावट दर्ज की गई है।

तो क्‍या इन कॉइंस की कीमतों में गिरावट का यह मतलब समझा जाए कि इन करेंसी में इन्‍वेस्‍टमेंट का वक्‍त अब जा चुका है। financialexpress से बातचीत में Vauld के CEO और को-फाउंडर दर्शन बथिजा कहते हैं कि निवेश के लिए डॉजकॉइन या शीबा इनु पर विचार करना इन्‍वेस्‍टर के जोखिम पर है। यह दोनों ही दोनों बेहद अस्थिर क्रिप्टो हैं।

वहीं, WazirX के वाइस प्रेसिडेंट राजगोपाल मेनन कहते हैं कि दोनों ही कॉइन इंडियन एक्सचेंजों पर टॉप-ट्रे‍डेड क्रिप्टो में से एक हैं। बाजार में उतार-चढ़ाव के दौरान हमने देखा है कि लोग बेचने के बजाय SHIB को खरीदना चाहते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि निवेश करने से पहले हरेक क्रिप्टो प्रोजेक्ट को ध्यान से देखना चाहिए।

Also Read- Banana Chips Making Business : मामूली निवेश में करें शुरूआत, दिन का 4000 कमाएं प्रॉफिट

Also Read- Business Idea : 20 हजार निवेश से शुरू करें लेमन ग्रास की खेती, कुछ सालों में कमा लेंगे 4 लाख रूपए

Leave a Reply

Your email address will not be published.