hindinews11.com

जिला आयुष अधिकारी को लोकायुक्त पुलिस ने 10,000 की रिश्वत लेते किया ट्रेप, इसलिए मांगी थी रिश्वत

रीवा लोकायुक्त पुलिस आए दिन रिश्वतखोर अधिकारियों पर अपना शिकंजा कस रही हैं। बाजवूद इसके सरकारी कर्मचारी रिश्वत लेने से बाज नहीं आ रहे हैं। हाल ही में रीवा लोकायुक्त पुलिस ने सिंगरौली जिले के आयुष अधिकारी को 10,000 रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ ट्रेप किया है।

मामले की जानकारी मीडिया को देते हुए रीवा लोकायुक्त एसपी गोपाल धाकड़ ने बताया कि भगवान दास साकेत पुत्र राम प्रसाद साकेत निवासी ग्राम बांधा, तहसील सरई जिला सिंगरौली के द्वारा लोकायुक्त पुलिस में यह शिकायत दर्ज करवाई गई थी कि उसके बेटे जिला आयुष कार्यालय सिंगरौली से अनुबंधित पारुल एजेंसी में आवेदक एवं उसके पुत्र को आउट सोर्स पर नियुक्ति करने के उपरांत कमीशन के रूप में 10, 000 रिश्वत की मांग की गई है। एसपी लोकायुक्त ने मामले का सत्यापन कराने के उपरांत लोकायुक्त निरीक्षक जिया उल हक के नेतृत्व में 8 सदस्य टीम भेजी। जैसे ही शिकायतकर्ता प्रभारी जिला आयुष अधिकारी डॉ. अनुपमा रोशन को 10, 000 की रिश्वत दी। वही बाहर खड़े लोकायुक्त के अधिकारियों ने रंगे हाथ उन्हें धर दबोचा। फिलहाल लोकायुक्त पुलिस आगे की कार्रवाई जिला आयुष कार्यालय सिंगरौली में ही कर रही हैं।

बताते चले कि रीवा लेाकायुक्त पुलिस द्वारा बीते दिनों पटवारी को 5,000 रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ ट्रेप किया था।

Also Read- India Rich Village : भारत का एक ऐसा गांव जहां हर कोई है करोड़पति, सभी जीते हैं लग्जरी लाइफ

Also Read- LIC की इस पॉलिसी में डेली करें 76 रूपए का निवेश, मेच्योरिटी पर मिलेगी 10 लाख से ज्यादा की रकम

Leave a Comment