hindinews11.com

खाने के दौरान गले में फंसा ढोकला दुल्हन की हुई मौत, डोली की जगह उठी अर्थी

छिंदवाड़ा-किसी ने सच ही कहा हैं, किस्मत का लिखा कोई नहीं टाल सकता है. जी हाँ कुछ ऐसा ही वाक्य एमपी के छिंदवाड़ा में सामने आया, जब हाथों में मेहंदी लगाकर अपने सुनहरे जीवन की आस में दुल्हन बैठी थी घर मे खुशियों का माहौल था,बस इसी बीच दुल्हन को डोली की जगह अर्थी में घर से विदा होना पड़ा. दिल दहला देने वाली मौत की घटना को सुन हर कोई हैरान एवं ग़मगीन है..

शहर के बुधवारी बाजार में रहने वाली 29 वर्षीय युवती मेघा पिता प्रमोद महादेव काले की कल पुणे से बारात आने वाली थी. शादी की तैयारियां पूरी हो चुकी थी. दुल्हन को हल्दी और मेहंदी भी लग चुकी थी. सारे मेहमान आ चुके थे. हंसी खुशी का माहौल था. परिजन और मेहमान शादी की खुशियां मना रहे थे.

इसी बीच अचानक नाश्ता करने के दौरान दुल्हन मेघा के गले में ढोकले का टुकड़ा फंस गया. तत्काल दुल्हन को स्थानीय आनंद हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. ऐसे में जिस दुल्हन को घर से डोली में विदा होना था, उसे आज अर्थी पर घर पर जाना पड़ा. बेटी की शादी के अरमान सजाए हुए परिजन को अपनी दुल्हन बनी बेटी को मुखाग्नि देनी पड़ी. एक पल पहले जहां घर में हर तरफ खुशी का माहौल था, वह मातम में बदल गया.

शादी के 1 दिन पहले जान गवाने वाली मेघा की प्राथमिक शिक्षा केंद्रीय विद्यालय छिंदवाड़ा में हुई एवं उच्च शिक्षा नासिक और मुंबई में पढ़ाई पूरी की, मई को 20 मई को शादी समारोह का आयोजन स्थानीय शहनाई लॉन में किया गया था लेकिन शादी के ठीक है 1 दिन पहले दर्दनाक हादसे ने खुशियों को मातम में बदल दिया, परिवार वाले स्तब्ध है वर्तमान में वे मुंबई में अपनी सेवा प्रदान कर रही थी.

Also Read- 20 पैसे वाले इस शेयर ने दिया छप्परफाड़ रिटर्न, जाने क्या चल रही वर्तमान कीमत

Also Read- Post office Mis schemes : इस स्कीम के तहत पोस्ट ऑफिस में करें निवेश, हो जाएंगे मालामाल

Leave a Comment