Post Office व Bank से कैश निकाशी व डिपॉजिट के नियमों में बड़ा बदलाव, पढ़ लें खबर नहीं तो फंस जाएगा पैसा

Post Office व Bank से कैश निकाशी व डिपॉजिट के नियमों में बड़ा बदलाव, पढ़ लें खबर नहीं तो फंस जाएगा पैसा

Post office or Bank Cash Deposit or Withdrawal News Rule : यदि आप भी बैंक अथवा पोस्ट ऑफिस से पैसों का बड़ा लेन-देन करते हैं। तो यह खबर पढ़ लें, वरना नए नियम के तहत आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता हैं। तो क्या है नया नियम चलिए जानते हैं।

बैंक अथवा Post office से अब तक आप भी बड़ा लेन-देन करते आए हैं, तो इस खबर को जरूर पढ़े। क्योंकि सरकार ने अब बड़े ट्रांजेक्शन में कुछ बदलाव किया है। अगर आप इस बदलाव से अंजान रहेंगे तो आपको परेशानी उठानी पड़ सकती है, आपको बैंक से बैरंग लौटना पड़ सकता हैं। नया नियम यह है कि सरकार द्वारा एक वित्तीय वर्ष में 20 लाख रूपए या इससे ज्यादा लेन-देन करने की स्थिति में पैन कार्ड व आधार कार्ड देना अनिवार्य कर दिया गया है। यह नियम 26 मई लागू होगा।

यानी कि 26 मई या उसके बाद जब भी आप बैंक जाएं और 20 लाख रूपए की निकासी अथवा जमा करेंगे तब आपको अपना पैन कार्ड व आधार कार्ड देना अनिवार्य रहेगा। यदि यह दोनों कागजात पैसा विड्रावल व डिपॉजिट के समय नहीं देते हैं तो आपको बैंक बैरंग लौटा सकता हैं। इसीलिए 26 मई से जब भी आप बैंक अथवा पोस्ट ऑफिस में 20 लाख या से उससे ज्यादा की निकासी व डिपॉजिट करने जाए तो पैन व आधार कार्ड साथ ले जाएं।

Post Office व Bank से कैश निकाशी व डिपॉजिट के नियमों में बड़ा बदलाव, पढ़ लें खबर नहीं तो फंस जाएगा पैसा

इस स्थिति में पैन व आधार होगा अनिवार्य

नए नियम की माने तो किसी बैंकिंग कंपनी अथवा कॉरपोरेटिव बैंक व पोस्ट ऑफिस में एक वित्त वर्ष में एक या एक से अधिक खाते में अगर कोई 20 लाख रुपये कैश जमा करता है तो उसे पैन-आधार जमा करना होगा।

इसी तर एक वित्त वर्ष में किसी बैंकिंग कंपनी, को-ऑपरेटिव बैंक व पोस्ट ऑफिस में किसी एक या एक से ज्यादा अकाउंट से 20 लाख रुपये निकालने पर भी पैन आधार का लिंक होना जरूरी है।

बैंकिंग कंपनी, को-ऑपरेटिव बैंक व पोस्ट ऑफिस में करंट अकाउंट या कैश क्रेडिट अकाउंट खोलने पर भी पैन-आधार देना अनिवार्य कर दिया है।

यदि कोई करंट अकाउंट खोलता है तो उसके लिए भी पैन व आधार कार्ड देना अनिवार्य है।

यदि किसी का बैंक अकाउंट पहले से पैन से लिंक हैं, फिर भी उसे लेनदेन के लिए पैन-आधार लिंक कराना अनिवार्य होगा।

इसलिए लागू हुआ नियम

मीडिया रिपोर्ट की माने तो सरकार द्वारा यह नया नियम इसलिए लागू किया गया है कि ताकि आयकर विभाग वित्तीय लेन-देन से अपडेट रहे। माना यह जा रहा है कि इस नियम के आने से ज्यादा लोग आयकर के दायरे में आएंगे। जिससे टैक्स चोरी पर लगाम लगाया जा सकेगा। क्योंकि अब आयकर विभाग पैन कार्ड अनिवार्य होने की स्थिति हर टांजेक्शन पर पैनी नजर रख सकेगा।

Also Read- 38 दिन में इस शेयर ने निवेशकों को बनाया लखपति, डेढ़ रूपए से सीधे पहुंचा 8 रूपए पार

Also Read- Cryptocurrency news : टेरा लूना Cryptocurrency में गिरावट की सुनामी, 7000 से सीधे 50 पैसे पहुंची कीमत

Leave a Reply

Your email address will not be published.