Thursday, May 26, 2022

hindinews11

HomeLIFE STYLEBasant Panchami 2022 : बसंत पंचमी पर ये गलतियां करने से सालभर...

Basant Panchami 2022 : बसंत पंचमी पर ये गलतियां करने से सालभर नहीं मिलता है मां सरस्वती का आर्शिवाद

Basant Panchami 2022 : बसंत पंचमी का पावन पर्व इस वर्ष 5 फरवरी 2022 को बड़ी धूमधाम से मनाया जाएगा। लेकिन क्या आप जानते इस पर्व के मौके पर कुछ कार्य करने से मां सरस्वी नाराज हो जाती है। जिससे सालभर उनकी कृपा नहीं मिलती है। तो चलिए जानते हैं बसंत पंचमी के दिन भूल से भी कौन-कौन से कार्य नहीं करने चाहिए।

Basant Panchami 2022 : बसंत पंचमी पर ये गलतियां करने से सालभर नहीं मिलता है मां सरस्वती का आर्शिवाद

हिन्दू धर्म में बसंत पंचमी पर्व का (Basant Panchami 2022) बड़ा महत्व है। इस दिन लोग सुबह-सुबह स्नान आदि करके भगवान की विधि-विधान से पूजा-अर्चना करते है। उन्हें सीजनल फल अर्पित करते है। जिसमें बैर, जौ, आम के बौर सहित कई चीजें शामिल हैं। बसंत पंचमी के दिन स्कूलों कालेजों में सरस्वती पूजन का कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, भाषण आदि छात्रों द्वारा प्रस्तुत किए जाते हैं। बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022) के दिन सरस्वती पूजन से सालभर मां सरस्वती का आर्शिवाद व्यक्ति पर बना रहता है। लेकिन बसंत पंचमी के मौके पर कुछ कार्य न करने की भी मनाही है। मान्यता है कि बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022) पर जो लोग यह कार्य करते हैं उनसे मां सरस्वती रूष्ठ हो जाती है। जिसके कारण सालभर उन्हें मां सरस्वती का आर्शिवाद नहीं मिलता है। तो चलिए जानते हैं, बसंत पंचमी पर क्या कार्य नहीं करने चाहिए।

इन कार्यो को नहीं चाहिए करना

मां सरस्वती को पीला कलर अति प्रिय है। मान्यता है कि जब मां सरस्वती धरती लोक पर अवतरित हुई थी तब ब्रम्हाण्ड में लाल, पीली एवं नीली आभा हुई थी। ऐसे में पीला कलर मां सरस्वती को अति प्रिय है। ऐसे में सरस्वती पूजन के दौरान पीला वस्त्र धारण करना शुभ फल देता है। जबकि इस दौरान काला व लाल रंग के कपड़े नहीं धारण करना चाहिए। इसी तरह बसंत पंचमी के मौके पर व्यक्ति को पेड़-पौधे नहीं काटने चाहिए। ठीक इसी प्रकार बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022) के मौके पर कभी भी व्यक्ति को बिना स्नान के भोजन ग्रहण नहीं करना चाहिए।

ऐसे ही बसंत पंचमी के मौके पर व्यक्ति को मांस, मदिरे का सेवन नहीं करना चाहिए। बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022) के मौके पर मां सरस्वती की विधि-विधान से पूजा करने का विधान है। लिहाजा इस दिन किसी का बुरा भी नहीं चाहिए। जो व्यक्ति इन कार्यो को बसंत पंचमी के मौके पर करता है। उनसे मां सरस्वती रूष्ठ हो जाती है और सालभर अमुक व्यक्ति को उनका आर्शिवाद नहीं मिलता है।

Also Read- Somvati Amavasya पर करें यह काम, दूर होंगे सारे संकट, जानिए महत्व, शुभ मुर्हूत आदि

Also Read- बेहद बुद्धिमान एवं विवेकशील होते है इस राशि के जातक, Meen Rashi के बारे में जानिए सबकुछ विस्तार से

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular