hindinews11.com

नामांकन रद्द कराने एएसआई ने होमगार्ड सैनिक से मांगी 10 हजार की रिश्वत, लोकायुक्त के हाथों हुआ ट्रेप

एएसआई ने होमगार्ड सैनिक से उसका नामांकन रद्द कराने के एवज में 15 हजार रूपए की रिश्वत मांगी थी। जिस पर आज उसे लोकायुक्त टीम द्वारा 10 हजार रूपए की रिश्वत लेते ट्रेप किया गया है।

लोकायुक्त पुलिस द्वारा यह कार्रवाई मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले में की हैं। मीडिया रिपोर्ट की माने तो होमगार्ड कार्यालय में पदस्थ एएसआई को लोकायुक्त ने 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। एएसआई ने होमगार्ड के एक सैनिक से उसका नामांकन रद्द करने का दबाव बनाकर 15 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। जिसकी शिकायत सैनिक ने जबलपुर लोकायुक्त से की थी। लोकायुक्त टीम ने जाल बिछाकर रिश्तखोर एएसआई को रंगेहाथों धरदबोचा।

बताते चले कि होमगार्ड सैनिक पंकज पवार की शिकायत मिलने के बाद लोकायुक्त टीम द्वारा तस्दीक की गई। जो सही पाई गई। जिस पर आज एएसआई प्रदीप शर्मा को 10 हजार रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ ट्रेप किया गया।

पीड़ित पंकज पवार ने बताया कि एएसआई प्रदीप शर्मा लगातार उस पर पैसे देने के लिए दबाव बना रहा था। पैने नहीं देने की स्थिति में एसडीआरएफ किट जमा कराकर नामांकन रद्द करने की धमकी देता था।

होमगार्ड सैनिक पंकज पवार ने जबलपुर लोकायुक्त में शिकायत दर्ज कराते हुए बताया था कि वो होमगार्ड शाखा में एसडीआरएफ टीम में पदस्थ है। पिछले दो-तीन महीनों से वह पारिवारिक कारणों से ड्यूटी पर नहीं था। कुछ दिन पहले ही उन्होंने दोबारा नामांकन जमा कर जॉइनिंग ली थी, जिसको लेकर शाखा में पदस्थ एएसआई प्रदीप शर्मा उससे 15000 की डिमांड कर रहे थे।

Also Read- स्मार्टफोन की कीमत में यहां मिल रही 4 माह पुरानी Hero Splendor Plus Bike, फटाफट देखें

Also Read- Old Coin : घर में रखा धूल खा रहा 1885 का यह सिक्का बनाएगा करोड़ों का मालिक, जाने बेंचने का सही तरीका

Leave a Comment