hindinews11.com

167 रूपए की प्रतिदिन कमाई करने वाला व्यक्ति अत्यंत गरीबी की आएगा श्रेणी में : विश्व बैंक

प्रतिदिन 167 रूपए की कमाई करने वाला व्यक्ति अत्यंत गरीबी की श्रेणी में आएगा। यह हम नहीं बल्कि विश्व बैंक ने हाल ही में अपनी एक रिपोर्ट में कहा है।

दरअसल विश्व बैंक ने अत्यंत गरीब व्यक्ति की परिभाषा में बदलाव किया है। नए आंकड़ों के अनुसार अब 2.15 डॉलर प्रति दिन यानी 167 रुपये रुपये कम कमाने वाला व्यक्ति अत्यंत गरीब माना जावेगा। बता दें कि अभी तक 1.90 डॉलर यानी 147 रुपये रोजाना कमाने वाला अत्यंत गरीब माना जाता है।

बताते चले कि विश्व बैंक समय-समय बढ़ती महंगाई, जीवन-यापन व खर्च में वृद्धि सहित कई मानकों के आधार पर अपने आंकड़े जारी करता रहता है। वर्तमा समय में वर्ष 2015 के आंकड़ों के आधार पर आंकलन किया जाता रहा है। लेकिन इस दरम्यान कई चीजों में तेजी से बदलाव हुआ है। हाल ही में विश्व बैंक ने नया मानक इस साल के अंत लागू करेगा।

भारत में घट रही गरीबी

मीडिया रिपोर्ट की माने तो साल 2011 की तुलना में बीपीएल की स्थिति साल 2019 में 12.3 फीसदी कम हुई है। जिसका प्रमुख वजह ग्रामीण गरीबी में गिरावट माना जा रहा है। जिससे साफ है कि ग्रामीण क्षेत्रों में निवासरत लोगों की आय में वृद्धि हुई है। बता दें कि साल 2011 में अत्यंत गरीबी 22.5 प्रतिशत रही है। जबकि साल 2019 में यह घटकर 10.2 फीसदी हो गई है। 8 सालों में गरीबी घटकर आधी हो गई है। हालांकि इस दरम्यान विश्व बैंक ने अत्यंत गरीबी 147 रूपए प्रतिदिन कमाई को आधार माना था।

Also Read- Most Valuable 50 Paise Coin : बेहद दुर्लभ है 50 पैसे का यह सिक्का, कीमत सुन अभी से लग जाएंगे तलाशने

Also Read- 2 रूपए वाले इस शेयर ने निवेशकों को बना दिया करोड़पति, 70,000 फीसदी से दिया ज्यादे का रिटर्न

Leave a Comment