TICKER

6/recent/TICKER-posts

Header Ads Widget

पहली बार कब रिजर्व बैंक ने छापी नोट, कब रखी गई थी नींव- Gk in hindi

RBI की स्थापना आजादी से पहले ही की जा चुकी थी। पहली नोट की छपाई तकरीबन 3 साल बाद हुई थी।

पहली बार कब रिजर्व बैंक ने छापी नोट, कब रखी गई थी नींव
नई दिल्ली। भारतीय मुद्रा जारी करने का अधिकार देश के भारतीय रिजर्व बैंक के पास है। इसके द्वारा जारी की गई नोटें ही मान्य होती है। पिछले कुछ सालों में इन मुद्राओं के कलर में काफी बलदाव आया है। देश में नगदी लेन-देन काफी ज्यादा होता हैं। पिछले कुछ समय लोग डिजिटल पेमेंट की ओर रूख किए हैं। बाजवूद इसके एक बड़ा तबका अभी भी नकदी लेन-देन करता है। देश के तमाम लोग इन नोटों का इस्तेमाल डेली करते हैं। क्या लेकिन आप जानते हैं कि आरबीआई की स्थापना कब हुई, पहली बार कब नोट छपे, कितनी रूपए की पहली नोट आरबीआई द्वारा निकाली गई। इस नोट में पहली तस्वीर किसकी थी। तो चलिए जानते हैं।

वर्तमान समय में देश में 2000, 5000, 100, 50, 20, 10, 5, 2 एवं 1 रूपए के नोट चलन हैं। साल 2016 से हजार रूपए के नोट चलन से बाहर हो गए। इससे पहले हजार रूपए के नोट काफी चलन में थे।

रिपोर्ट्स की माने तो साल 1956 से रिजर्व बैंक मिनिमम रिजर्व सिस्टम के तहत नोट की छपाई करता है। इस नियम की माने तो करेंसी नोट प्रीटिंग के विरूद्ध 200 करोड़ रूपए का रिजर्व हमेशा रखना जरूरी है। इसके बाद ही रिजर्व बैंक करेंसी नोट को प्रिंट कर सकता है।

रिजर्व बैंक की स्थापना व पहली नोट

रिपोर्ट की माने तो भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना साल 1935 में हुई थी। यानी कि आजादी से पहले रिजर्व बैंक की नींव पड़ चुकी थी। स्थापना के लगभग 3 साल बाद 1938 के जनवरी महीने में आरबीआई ने 5 रूपए का नोट जारी किया था। इस नोट में किंग जॉर्ज व्हीआई की तस्वीर प्रिंट हुई थी। 

आजादी के बाद पहली भारतीय मुद्रा

भारत के आजादी के बाद साल 1949 भारतीय रिजर्व बैंक ने पहली करेंगी के रूप में 1 रूपए का नोट जारी किया था। साल 1947 तक के नोटों में ब्रिटिश किंग जॉर्ज की तस्वीर छपती थी। रिजर्व बैंक द्वारा पहली बार साल 1969 में गांधी जी की तस्वीर वाले 100 रूपए के नोट जारी किए थे। 

Also Read- Business ideas : पारस डेयरी की फ्रेंचाइजी लेकर महीने के कमाएं लाखों रूपए, जानिए कैसे


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ