TICKER

6/recent/TICKER-posts

Header Ads Widget

माधुरी के साथ इंटीमेट सीन देते समय बहक गया था बालीवुड का यह खूंखार विलेन, करने लगा ऐसी हरकतें, फिर जो हुआ उसे देख...

90 के दशक की फिल्मों में इंटीमेट सीन कुछ ज्यादा ही हुआ करते थे। उस समय ज्यादातर फिल्मों की कहानियां गांव की हुआ करती थी। जिसमें एक हीरो होता था और एक हीरोइन। दोनों की लव स्टोरी में एक विलेन जरूर होता था। हीरोइन की सुन्दरता को देख विलेन उस पर फिदा हो जाता था। लेकिन हिरोइने थी कि उन्हें भाव न देती। वह तो सिर्फ हीरो पर फिदा होती थी।

माधुरी के साथ इंटीमेट सीन देते समय बहक गया था बालीवुड का यह खूंखार विलेन, करने लगा ऐसी हरकतें, फिर जो हुआ उसे देख...

 जिसके चलते फिल्म के विलेन उनके साथ ईष्या रखने लगते थे। जिसके कारण वह कभी हिरोइन को चोट पहुंचाते तो कभी हीरो को। विलेन कभी हिरोइन के साथ जर्बदस्ती करते हुए नजर आते, तो कभी हीरोइन के चलते हीरो को लहू-लुहान होना पड़ता था। इन्हीं सब कहानियों के बीच हिरोइनों को इंटीमेट सीन भी देने पड़ते थे। हालांकि इंटीमेट सीन का नाम सुनते ही इनके चेहरे की हवाईयां उड़ने लगती थी। लेकिन स्क्रिप्ट की डिमांड के चलते उन्हें यह सब मजबूरी में करना भी पड़ता।

अक्षय कुमार स्टारर फिल्म ‘लक्ष्मी बम‘ की कंफर्म हुई रिलीज, डेट, पोस्टर शेयर कर लिखा इस दीवाली घर आएगी लक्ष्मी

 जिसके चलते वह कई बार ज्यादती का भी शिकार हो जाती। हालांकि फिल्मों में जो विलेन होते थे वह सब जानबूझकर नहीं करते थे। लेकिन सीन ही ऐसे होते थे जिससे कभी-कभार विलेन एवं हीरो दोनों ही बहक जाते थे। जिनके कई किस्से इंटरनेट की दुनिया में भरे पड़े हैं। एक ऐसा ही किस्सा हुआ था बालीवुड की धक धक गर्ल माधुरी दीक्षित के साथ। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो माधुरी उस समय सख्ते में आ गई थी जब वह बाॅलीवुड के खूंखार विलेन रंजीत के साथ उन्हें इंटीमेट सीन देने थे। 


खबरों की माने तो माधुरी के साथ जब रंजित राय इंटीमेट सीन दे रहे थे वह अपना नियंत्रण खो बैठे थे। वह बहक गए थे। माधुरी को जब इस बात का एहसास हुआ कि वह हद से ज्यादा ही कुछ रिएक्ट कर रहे है तब उन्होंने सख्ती दिखाते हुए दूर किया। साथ ही माधुरी ने सख्त लहजे में हिदायत दे डाली कि उन्हें वह दोबारा न टच करें। बता दें कि माधुरी के साथ ऐसा कोई पहली बार वाक्या नहीं हुआ है। खबरों की माने तो माधुरी ‘फिल्म‘ दयावान के दौरान एक इंटीमेट सीन के दौरा विनोद खन्ना भी बहक चुके हैं। 

रोमेंटिक सीनों का बढ़ा चलन

90 के दशक की फिल्मों में जर्बदस्ती वाले सीन सबसे ज्यादा हुआ करते थे। लेकिन समय के साथ इसमें काफी बदलाव हुआ है। अब जर्बदस्ती वाले सीन तो फिल्मों में कम देखने को मिलते हैं। लेकिन यही सीन अब रोमांस का रूप ले चुके हैं। पहले की फिल्मों में 10 से 5 मिनट के ऐसे सीन हुआ थे। लेकिन अब की फिल्मों में यह सीन कब चालू हो जाए कुछ नहीं कहा जा सकता है। शायद इसलिए आज की फिल्में फैमिली संग लोग देखने से कतराते हैं। 

इस शादीशुदा एक्टर के प्यार में पागल थी श्रद्धा कपूर, घरवालों ने खींचकर निकाला था ब्वाॅयफ्रेंड के घर से बाहर