टिड्डियों के जिला बना शरणास्थली, प्रशासन के अधिकारियों एवं ग्रामीणों ने ध्वनि करके भगाया

रीवा। लगभग एक माह से जिले में टिड्डी दल की रह.रहकर दस्तक बनी हुई है। बुधवार को जिले के सेमरिया और गंगेव ब्लाक में एक बार फिर टिड्डी दल अपनी झुण्ड के साथ सामने आया है। जैसे ही ग्रामीणों की नजर टिड्डी दल पर पड़ी उसे भगाने के लिए जहां ट्रैक्टर का साइलेंसर निकालकर आवाज किया गया वहीं थाली आदि बजाकर टिड्डी को भगाया गया। बताया जा रहा है कि कई ग्रामीणों ने बैण्ड बजाकर भी टिड्डियों को भ्ागाने का प्रयास करता रहा। टिड्डियों के होने की सूचना प्रशासन को भी दी गई।

 सूचना मिलने के बाद कृषि विभाग एवं मनगवां के एसडीएम सहित प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचकर टिड्डियों को भगाने के लिए न सिर्फ प्रयास किया बल्कि दवा का छिड़काव भी करवा रहा है। जिससे टिड्डियों के द्वारा रखे गए अण्डे को समाप्त किया जा सके। ज्ञात हो कि टिड्डी जिस स्थान पर पड़ाव डालती है वहां लाखों की संख्या में अण्डे भी रखती है। यही वजह है कि अण्डे को समाप्त करने के लिए दवा का छिड़काव प्रशासन कर रहा है। 

यहां रहा टिड्डी दल

जानकारी के मुताबिक जिले के सेमरिया ब्लाक अंतर्गत लौआ लक्ष्मणपुर सहित आसपास के गांव में टिड्डी दल देखा गया। तो वहीं मनगवां के गंगेव ब्लॉक अंतर्गत बसौलीए मढ़ीए बुड़वा आदि गांवों में भ्ाी टिड्डियों का दल दस्तक दिया है। ग्रामीणों द्वारा किए गए ध्वनि के बाद गंगेव ब्लाक का टिड्डी दलए गढ़ए सोहागी के रास्ते उत्तर प्रदेश की ओर उड़ान भरी है। 

एक माह से अपना पड़ाव बनाए है टिड्डी दल

ज्ञात हो कि लगभग एक माह से जिले में टिड्डी दल की उपस्थिति लगातार देखी जा रही है। सतना जिले के अमरपाटन से होकर गोविंदगढ़ के रास्ते पहली बार टिड्डी दल जिले में पहुंचा था। उक्त दल कनौजा, गुढ़ से होकर सीधी जिले के लिए उड़ान भर गया था। दूसरी बार बकिया बराज के रास्ते सेमरिया क्षेत्र में टिड्डी दल पहुंचा था। जबकि तीसरी बार सीधी जिले से हनुमना, मऊगंज तहसील क्षेत्र में टिड्डी दल की दस्तक रही है। इसके पूर्व सेमरिया के मनकहरी गांव में भी टिड्डी दल देखा गया था। तो वहीं बुधवार को सेमरिया और गंगेव ब्लाक में टिड्डी दल पहुंचा था। जिससे से यह माना जा रहा है कि टिड्डी दल तक दस्तक जिले में लगातार बनी हुई है। 
वर्जन
गंगेव ब्लाक के गांवों में टिड्डी दल पहुंचा था। वहीं लौआ लक्ष्मणपुर में भी टिड्डी दल देखा गया है। ध्वनि करके टिड्डियों को भगाया गया है। दवा का छिड़काव करवाया जा रहा है। 
यूपी बागरी, डीडीए, रीवा।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां