कोरोना को लेकर इस राज्य की सरकार हुई सख्त: 31 जुलाई तक बढ़ाया लाॅकडाउन

कोरोना वायरस के (Coronavirus) दिन प्रतिदिन बढ़ते केस को लेकर अब महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra government) एक बार फिर से सख्त हुई हैं। कोरोना के बढ़ रहे संक्रमण को लेकर सरकार द्वारा लाॅकडाउन की अवधि 31 जुलाई कर दी गई है। प्रदेश द्वारा दी गई जानकारी में बताया गया है कि 30 जून के बाद भी लाॅकडाउन की पाबंदियां रहेगी। क्योंकि अभी भी राज्य में कोरोना वायरस का खतरा कम नहीं हुआ है। लिहाजा लाॅकडाउन 30 जून के बाद भी राज्य में जारी रहेंगा। 

कोरोना को लेकर इस राज्य की सरकार हुई सख्त: 31 जुलाई तक बढ़ाया लाॅकडाउन

बताते चले कि महाराष्ट्र में लगातार बढ़ रहे कोविड-19 के मामलों को लेकर यह फैसला लिया गया है। सरका की माने तो जिला कलेक्टर और म्यूनसिपल कॉरपोरेशन के कमीशनर्स राज्य में कुछ नियम लागू करेंगे जिससे गैर जरूरी गतिविधियां को नियंत्रित किया जा सके। बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई सारे राज्यों ने पहले ही अपने यहां लॉकडाउन की अविध को बढ़ा दिया था। तो वहीं अब इस सूची में महाराष्ट्र भी शामिल हो चुका है। 

खुलेगी जरूरती दुकानें

महाराष्ट्र सरकार ने एक आदेश जारी करते हुए कहा कि जरूरी चीजों की दुकानें इस दौरान खुली रहेंगी। हालांकि पूरा बाजार एक साथ नहीं खोला जाएगा। जबकि कंटेनमेंट जोन में सख्ती और बढ़ाई जाएगी। इसके अलावा सीमित लोगों के साथ दफ्तर को खोला जा सकेगा। सरकार के अनुसार आपातकालीन, कोषागार, आपदा प्रबंधन, स्वास्थ्य और चिकित्सा, पुलिस जैसे सरकारी कार्यालय 15 प्रतिशत क्षमता के साथ काम करेंगे। जबकि सभी निजी कार्यालय 10 प्रतिशत क्षमता के साथ काम किया जा सकता है।

Maharashtra_cm

..तो बढ़ सकता है लाॅकडाउन

ज्ञात हो कि बीते रविवार को सीएम उद्धव ठाकरे ने अपने राज्यों के लोगों से अपील की थी कि अगर सभी लोग सोशल डिस्टेंसिंग और नियमों का पालन नहीं करते हैं, तो राज्य में लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाया जा सकता है। लिहाजा सरकार ने प्रदेश में बढ़ते केस पर चिंता व्यक्त करते हुए एक बार फिर से लाॅकडाउन की अवधि को 30 जून से बढ़ाकर 31 जुलाई करने का फैसला कर लिया है।

डेढ़ लाख पार हुआ आंकड़ा

महाराष्ट्र राज्य में कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज है। इस राज्य में संक्रमित लोगों का आंकड़ा लगभग 1,64,626 पहुंच गया है। महाराष्ट्र के पुणे एवं मुम्बई शहर में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। महाराष्ट्र में अब कोरोना महामारी से 7,429 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 86,575 लोग इस वायरस से अभी तक पूरी तरह से स्वस्थ्य हो चुके हैं।
कोरोना को लेकर इस राज्य की सरकार हुई सख्त: 31 जुलाई तक बढ़ाया लाॅकडाउन

अनलाॅक के चलते तेजी से बढ़े मामले

जानकारों की माने तो अनलॉक हो जाने के चलते महाराष्ट्र में कोरोना के मामले में तेजी से वृद्धि हुई है। कोरोना के बढ़े हुए केसेस को कम करने के लिए राज्य सरकार को दोबारा लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लेना पड़ा। ताकि कुछ नियम लागू कर गैर जरूरी गतिविधियां को नियंत्रित किया जा सके। लाॅकडाउन के दौरान लोग अपने घरों में रहेंगे। इस तरह महामारी से लोग बच सकेंगे और बढ़ रहे मामलों में कमी आएगी।

क्या यहां भी बढ़ेगा लाॅकडाउन

महाराष्ट्र के बाद देश की राजधानी दिल्ली में सबसे अधिक कोरोना का कहर है। अब महाराष्ट्र सरकार के इस फैसले के बाद शायद दिल्ली सरकार भी अपने यहां लॉकडाउन को बढ़ा दें। 
कोरोना को लेकर इस राज्य की सरकार हुई सख्त: 31 जुलाई तक बढ़ाया लाॅकडाउन


क्योंकि महाराष्ट्र की तरह ही दिल्ली का भी बुरा हाल है। दिल्ली में अब तक 83,077 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं।


एकदम से आया उछाल

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सोमवार को एक आंकड़ा जारी किया गया। जिसमें पिछले 24 घंटों में सबसे ज्यादा कोविड-19 से संक्रमित होने की बात कही गई है। 


आंकड़ों की माने तो बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस के 19,459 नए मामले दर्ज किए गए हैं। देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 548,318 हो गई है। अब तक इस महामारी से कुल 16475 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 321723 लोग कोरोना मुक्त हो गए हैं। देशभर में इस समय कोरोना के लगभग  210,120 सक्रिय केस हैं।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां