फिल्मों में इंट्री करने से पहले बीमा कंपनी में नौकरी किया बालीवुड का यह महशूर विलेन, 40 की उम्र इस फिल्म में मिला ब्रेक

बालीवुड फिल्मों में अगर मशहूर विलेन की बात की जाए तो सबसे पहला नाम मोगैम्बो यानी कि अमीरश पूरी (Amreesh puri) का आता हैं। अमरीशपुरी ने बालीवुड (Bollywood) में लगभग 400 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया हैं। इस दौरान उन्होंने कई तरह के किरदार निभाए। कभी उन्होंने ईमानदार पुलिस इंस्पेक्टर का रोल किया तो कभी सरल-सहज एक पिता का। अमरीशपुरी के हर किरदार को लोगों ने खूब पसंद किया। 
फिल्मों में इंट्री करने से पहले बीमा कंपनी में नौकरी किया करता बालीवुड का यह महशूर विलेन, 40 की उम्र इस फिल्म में मिला ब्रेक

लेकिन बालीवुड में उन्हें सबसे ज्यादा विलेन के रोल में सफलता मिली। एक समय तो ऐसा भी आया जब उनके बिना कोई फिल्म ही नहीं बनती थी। बालीवुड के अलावा अमरीश पुरी ने तमिल, कन्नड, मराठी सहित कई अन्य भाषाओं में भी फिल्में की हैं। अमरीशपुरी फिल्मों में आने से पहले एक बीमा कंपनी में नौकरी करते थे। नौकरी के दौरान ही उन्होंने पृथ्वी थिरयेटर ज्वाइन किया। थिरयेटर ज्वाइन करते ही वह नौकरी छोड़ देने के मूड़ में थे। लेकिन दोस्तों ने उन्हें ऐसा करने से मना कर दिया था।

 कहा जाता है कि जब वह 22 वर्ष के थे तब उन्होंने एक फिल्म का आॅडीशन दिया था। लेकिन डायरेक्टर ने उन्हें यह कहकर मना कर दिया था कि उनका चेहरा पथरीला है। लगभग 40 साल बाद अमरीश पुरी को फिल्म रेश्मा और शेरा में ब्रेक मिला। इस फिल्म में उन्होंने एक ग्रामीण व्यक्ति का किरदार निभाया था। अमरीश पुरी को असली पहचान फिल्म विधाता से मिली। यह फिल्म साल 1982 में आई थी।

 जिसे डायरेक्टर सुभाष घई ने किया था। इसके बाद अमरीश की फिल्म हीरो आई। इस फिल्म ने उनके कैरियर में चार चाॅद लगा दिया। जिसके बाद अमरीश पुरी ने पीछे मुड़कर कभी नहीं देखा। फिल्मों में अमरीश पुरी साहब का गेटअप किसी को डराने के लिए काफी हुआ करते थे। चाहे वह फिर मि. इंडिया में उनके द्वारा निभाया गया किरदार मोगैम्बो हो या फिर नगीना फिल्म का भैरवनाथ। फिल्मों में जब वह अपने दमदार आवाज से डायलाॅग बोलते थे मानो हीरो की बोलती बंद हो जाती थी। 
फिल्मों में इंट्री करने से पहले बीमा कंपनी में नौकरी किया करता बालीवुड का यह महशूर विलेन, 40 की उम्र इस फिल्म में मिला ब्रेक

अमरीशपुरी साहब ने बालीवुड में कई तरह के किरदार निभाए। अमरीशपुरी साहब आज भी विलेन के रूप बालीवुड में सबसे ज्यादा फेमस हैं। अमरीशपुरी द्वारा फिल्मों में निभाए गए हर किरदार रूह कंपा देने वाले होते थे। अमरीशपुरी साहब का जन्म 22 जून 1932 को पाकिस्तान के लाहौर में हुआ था। 72 साल की उम्र में वह इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां