स्कार्पियों से पुलिस ने पकड़ा 15 किलो गाजा, तीन आरोपी गिरफ्तार

रीवा। मुखबिर की सटीक सूचना एवं लॉकडाउन के दौरान सक्रिय पुलिस के कारण एक बार फिर जिले की रायपुर कर्चुलियान पुलिस ने घेराबंदी कर स्कार्पियों जीप में जहां 15 किलो प्रतिबंधित गांजा जप्त किया है वहीं अलग-अलग तीन स्थानों में दबिश देकर तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए युवकों के निशानदेही पर पुलिस ने अन्य दो लोगों के विरूद्ध मामला पंजीबद्ध कर लिया है। 
स्कार्पियों से पुलिस ने पकड़ा 15 किलो गाजा, तीन आरोपी गिरफ्तार

रायपुर कर्चुलियान पुलिस ने पकड़े गए तीनों आरोपितों को एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर सलाखों के पीछे कर दिया है। बताया गया है कि उक्त युवक लम्बे समय से प्रतिबंधित गांजा के कारोबार में संलिप्त थे। लगातार पुलिस को मुखबिर से इसकी सूचना मिल रही थी। लेकिन हर बार पुलिस को यह साझा देने में कामयाब रहते थे। बीती रात सटीक सूचना एवं लॉकडाउन के दौरान गश्त कर रही पुलिस द्वारा बगैर समय गवाए घेराबंदी कर स्कार्पियों को पकड़ने में सफलता अर्जित कर ली है। 

घटनाक्रम पर एक नजर

रायपुर थाना प्रभारी अशोक सिंह जालौन को सूचना मिली कि रायपुर कर्चुलियान निवासी विजय सोनी अपने घर के सामने स्कार्पियों क्रमांक एमपी 17 सीए 0324 में बैठकर गांजा बेचने के फिराक में हैं।आनन-फानन में पुलिस ने दबिश देने का प्रयास किया, लेकिन विजय सोनी मौके से स्कार्पियों लेकर फरार हो गया। हालांकि मुखबिर की सटीक सूचना पर घेराबंदी कर पुलिस ने स्कार्पियों को रायपुर कर्चुलियान से महज 6 किलोमीटर दूर रोकने में सफलता प्राप्त कर ली। 

लेकिन अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से तीनों युवक फरार होने में सफल हो गए। जब स्कार्पियों की तलाशी ली गई तो पुलिस के पैरो के नीचे से जमीन खिसक गई। जब उन्होंने स्कार्पियों की डिग्गी चेक की तो उनके हाथ में सफेद रंग की बोरी लग गई। बोरी खोलकर देखा गया तो उसमें प्रतिबंधित गांजा के 16 पैकेट रखे हुए थे। साथ ही स्कार्पियों में एक इलेक्ट्रानिक तौल कांटा भी पाया गया है। तौल कराने पर उक्त गांजे का वजन 15 किलो 100 ग्राम निकला है। 

छत्तीसगढ़ से आता था प्रतिबंधित गांजा

अब तक चली विवेचना में पता चला है कि उक्त गांजे की खेप छत्तीसगढ़ के कोरबा से वह गांजा पहले सतना जिले के अमरपाटन आता था। जहां से उसे रायपुर कर्चुलियान लाया जाता था। फिर आरोपितों द्वारा उक्त गांजे को फुटकर बेंचकर पैसे कमाए जाते थे। पूछताछ के दौरान आरोपितों ने बताया कि यह गांजे की खेप लॉकडाउन के दौरान छत्तीसगढ़ के कोरबा से चलकर अमरपाटकन पहुंची थी। 

जहां अमरपाटन से वह उक्त खेप को लेकर रायपुर कर्चुलियान पहुंची थी। इस दौरान उनके द्वारा स्कार्पियों में पुलिस व प्रेस का स्टीकर का इस्तेमाल किया जाता था। आरोपितों ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान पुलिस ने गश्त करने व नियम का पालन कराने के लिए प्राईवेट वाहनों को किराए पर लिया था। लिहाजा पुलिस का नेमप्लेट लगाने से विभिन्न् चेकपोस्टों पर उनकी चेकिंग नहीं की जाती थी और रीवा जिले में प्रेस का पोस्टर लगाकर वह आराम से लॉकडाउन के नियमों को ठेंगा दिखाते हुए अपने काम को अंजाम तक पहुंचा देते थे। 

ये हैं आरोपी

पुलिस ने जिन तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है उनमें विजय सोनी पुत्र रामभद्र सोनी 26 वर्ष निवासी रायपुर कर्चुलियान, अमित सोनी पुत्र रामबहोर सोनी 25 वर्ष निवासी रायपुर कर्चुलियान व संतोष साहू पुत्र लक्ष्मण साहू 28 वर्ष निवासी गोरा अमरपाटन जिला सतना शामिल हैं। पुलिस ने तीनों आरोपितों के बयान के आधार पर अन्य दो अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध भी मामला पंजीबद्ध किया है। 

जप्ती पर एक नजर

पुलिस ने उक्त कार्रवाई में 15 किलो प्रतिबंधित गांजा, एक स्कार्पियों जीप, एक इलेक्ट्रानिक तौल कांटा जप्त किया है। साथ ही स्कार्पियों में मिले कुछ कपड़े व दस्तावेज भी जप्त किए हैं। पुलिस ने आरोपितों के पास से तीन मोबाइल हैण्डसेट, 25 हजार रूपए नगद जप्त किया है। 


वर्जन
मुखबिर की सूचना पर दबिश देकर एक स्कार्पियों जीप की तलाशी लेने पर 15 किलो प्रतिबंधित गांजा जप्त किया गया है। साथ ही तीन आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया है जो कि प्रतिबंधित गांजा के कारोबार में लिप्त थे। मामला दर्ज करके जांच की जा रही है। 
अशोक सिंह जालौन, थाना प्रभारी, रायपुर कर्चुलियान। 

Post a Comment

0 Comments