दोहरे हत्याकाण्ड के तीन आरोपी गिरफ्तार, रूपए के लालच में घटना को दिया अंजाम

रीवा। बीते दिनों सिरमौर के घिनौची धाम में हुए दोहरे हत्याकण्ड के तीन आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं। पकड़े गए तीनों आरोपियों से पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त कट्टा व लूटे गए माल को बरामद कर लिया हैं। घटना के संबंध में पुलिस ने बताया कि विश्वनाथ तिवारी निवासी धवैया ने 26 मार्च की दोपहर तकरीबन 3 बजे इस बात की शिकायत दर्ज कराई थी कि मेरे भतीजे विवेक उर्फ अमन तिवारी, आसू उर्फ शीतल तिवारी लापता हैं। जबकि साथ में ही रहे शिवम तिवारी घायल अवस्था में घर आया हैं। 
दोहरे हत्याकाण्ड के तीन आरोपी गिरफ्तार, रूपए के लालच में घटना को दिया अंजाम

जिसने बताया कि शीतल एवं विवेक भैय्या मुझे छोड़कर प्रमोद यादव एवं संजय यादव के साथ कहीं चले गए हैं। रात को इन दोनों ने मुझे मारने की कोशिश की हैं और मेरे हाथ-पैर बांधकर मुझे नहर में फेंक दिया था। किसी भी तरह मैं बचते-बचाते घर पहुंचा हूं। घटना को तुरंत संज्ञान में लेते हुए सिरमौर थाना प्रभारी ने दोनों युवकों की तलाश शुरू की तो दोनों की लाश सिरमौर स्थित घिनौची धाम में मिली। शंका के आधार पर पुलिस ने संजय यादव एवं प्रमोद यादव को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार युवको से पुलिस ने जब सख्ती के साथ पूछताछ कि तो दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस ने इन दोनों के पास से घटना में प्रयुक्त कट्टा व लूटे गए माल को भी बरामद कर लिया हैं। 

लूट के इरादे से की हत्या

पुलिस ने बताया कि आरोपितों ने लूट के इरादे से घटना को अंजाम दिया था। पहले युवकों को अत्यधिक नशा करा दिया। इसके बाद कट्टे बट व पत्थर से कुचल इन दोनों युवकों की हत्या कर दी। वहीं तीसरा युवक शिवम तिवारी के साथ मारपीट करके हाथ, पैर एवं मुंह बांधकर नहर में फेंक दिया था। शिवम किसी भी तरह अपने को बचाने में कामयाब रहा।

ये हुआ बरामद

आरोपितों से पुलिस ने लूटे गए पैसे, व हत्या में प्रयुक्त कट्टा, मोबाइल बरामद कर लिया हैं। आरोपियों को पुलिस ने न्यायालय में पेश किया हैं। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। 

ये हैं आरोपित

पुलिस ने उक्त घटना में तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया हैं। जिसमें संजय एवं प्रमोद हत्या में शामिल थे। जबकि उनके एक साथी को साक्ष्य मिटाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया हैं। पुलिस ने जानकारी में बताया कि तीसरा आरोपी उनका दोस्त हैं। जो कपड़े, बेल्ट में लगे खून को जलाया था। जले हुए स्थान पर पुलिस ने पहुंचकर उक्त अवशेष को बरामद किया हैं। 

Post a Comment

0 Comments