आरक्षण को लेकर सपा सहित सहयोगी दलों का विरोध प्रदर्शन 26 को

सीधी। अनुसूचित जाति जनजाति के तुष्टीकरण के लिए 70 वर्षों से सरकारें लगातार कुचक्र करते हुए सामान्य और पिछड़ा वर्ग के हितों पर कुठाराघात करती रही हैं। समस्त राजनीतिक दलों द्वारा विभिन्न संशोधन कर मूल संविधान में परिवर्तन किए हैं, पदोन्नति में आरक्षण, एट्रोसिटी एक्ट, भर्ती में योग्यता के मापदंडों को कम करना, आयु में छूट देना, प्रवेश परीक्षाओं के शुल्क में छूट, स्कॉलरशिप, छात्रावास विशेष कोचिंग इत्यादि ऐसे अनेकों कार्यक्रम है जो केवल जातिगत आधार पर संचालित किए जा रहे हैं, जबकि गरीबीए बेबसी और लाचारी हर वर्ग में है। 

समय आ गया है हमें अपने समाज के और राष्ट्र के हर वर्ग के उत्थान के लिए विरोध करना होगा और घरों से निकलकर अपनी एकता और शक्ति का प्रदर्शन करना होगा। सपाक्स द्वारा सामान्य और पिछड़ा वर्ग के विभिन्न मुद्दों पर पूरे मध्यप्रदेश में प्रदेश स्तरीय विरोध प्रदर्शन के तहत 26 फरवरी को शाम 4.30 बजे कलेक्ट्रेट सीधी मे विरोध स्वरूप राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन कलेक्टर सीधी को दिया जाना सुनिश्चित किया गया है।

 सामान्य पिछड़ा अल्पसंख्यक अधिकारी, कर्मचारी, सपाक्स समाज व युवा वर्ग से अनुरोध है कि विरोध स्वरूप ज्ञापन कार्यक्रम में परिवार सहित अनिवार्य रूप से शामिल होकर राष्ट्र एवं समाज के प्रति अपनी प्रतिबद्धता एवं एकता का प्रदर्शन करें। कार्यालय के पश्चात आपको मात्र एक घंटा विरोध प्रदर्शन के लिए देना होगा। राजनैतिक दल का ना होकर सपाक्स कर्मचारी व सामाजिक संगठन का आह्वान है। 

अपेक्षा करते हैं की अपने हित संवर्धन के लिए एवं अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए सीधी जिला के आप सभी इस अनुरोध को स्वीकार करते हुए 26 फरवरी को सायं 4.30 बजे कलेक्टे्रट सीधी मे एकत्रित होकर कार्यक्रम को सफल बनायेंगे, विरोध ज्ञापन कार्यक्रम निम्नांकित संस्था द्वारा आयोजित किया जा रहा है। 

Post a Comment

0 Comments