प्लास्टिक पर कार्यवाही के लिए गठित की गई विभागीय टीम

सीधी। सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को प्रतिबंधित करने के उद्देश्य से लंबे समय से पहल न होने के बाद मांग पर प्रशासनिक टीम गठित की गई है। गठित टीम में श्रेयस गोखले डिप्टी कलेक्टर सीधी, अमर सिंह मुख्य नगर पालिका अधिकारी सीधी एवं केदार परौहा उप निरीक्षक कोतवाली सीधी हैं।
प्लास्टिक पर कार्यवाही के लिए गठित की गई विभागीय टीम

 अपर जिला मजिस्टे्रट द्वारा जारी आदेश के बाद गठित टीम को निर्देशित किया गया है कि मध्यप्रदेश जैव अवशिष्ट अधिनियम २००४ की धारा ०३ के तहत सम्पूर्ण मध्यप्रदेश में प्लास्टिक थैलियों के उत्पादन, भण्डारण, परिवहन, विक्रय और उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। इसके बाद भी यदि प्लास्टिक थैलियों के क्रय विक्रय एवं उपयोग किये जा रहे हैं कि इस पर पर्यावरण का नाकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। जिस पर रोक लगाने के लिए ठोस कार्यवाही की बात कही गई है।

नई पहल के अभियान को आखिरकार प्रशासनिक सहयोग प्राप्त हुआ। विज्ञप्ति के माध्यम से अभियान के सचिव अधिवक्ता बद्री मिश्रा ने बताया की उक्त अभियान की अध्यक्ष सामाजिक कार्यकर्ता श्रीमती नीलम पाण्डेय के साथ जन सहयोग से विगत लंबे समय से वो सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग, विक्री पर प्रतिबंध लगाने हेतु प्रयासरत रहे है जिसके लिए नई पहल के अभियान के माध्यम से कई सामाजिक आयोजन एवम जागरूकता कार्यक्रम भी चलाये गए। सफलता के प्रथम पड़ाव में पिछले वर्ष ओकटुबर में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा सिंगल यूज प्लास्टिक को पूर्णत: प्रतिबंधित कर दिया गया। 

जिसका पूरे देश मे व्यापक असर देखने को मिल रहा है किंतु सीधी जिला इस मामले में काफी पीछे है, जिस हेतु इसके लिए उनके द्वारा कई बार इस हेतु प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया गया। आखिरकार जिला कलेक्टर एवं अतरिक्त कलेक्टर ने इसे गंभीरता से लेते हुए एक तीन सदस्यीय टीम का गठन किया है जो सीधी जिले की नगरपालिका, नगरपंचायत एवं अन्य स्थानों में सिंगल यूज प्लास्टिक के निस्तारण एवं विक्री, खरीदी के प्रतिबंध को सुनिश्चित करेगी।

 जिससे भविष्य में होने वाले प्लास्टिक के खतरे से मानव जीवन एवं पर्यावरण को बचाया जा सकेगा, गौ माता की रक्षा की जा सकेगी। उक्त टीम के गठन के लिए नई पहल की अध्यक्ष श्रीमती नीलम पाण्डेय एवं सचिव बद्री मिश्रा ने जिला प्रसाशन का आभार व्यक्त किया साथ ही लोंगो से सिंगल यूज प्लास्टिक इस्तेमाल न करने निवेदन भी किया है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां