नपुसंकता के चलते भागी पत्नी तो बेटे ने कर दिया पिता की हत्या

उत्तर प्रदेश के दादरी के जारचा कोतवाली क्षेत्र के कलौंदा गांव में शुक्रवार की देर रात युवक ने अपने पिता का कत्ल कर दिया। आरोपी को शक था कि उसके पिता ने उसे नपुंसक बनाया है। गांव के कुछ लोगों ने उसको कह दिया था कि उसके पिता ने उसे नपुंसक बनाने की दवा दी है। इसकी वजह से उसका मानसिक संतुलन ठीक नहीं था। आरोपी ने पुलिस के समक्ष पिता की हत्या का जुर्म कबूल किया है। 
नपुसंकता के चलते भागी पत्नी तो बेटे ने कर दिया पिता की हत्या

डीसीपी ग्रेटर नोएडा राजेश कुमार सिंह ने बताया कि कलौंदा गांव में रामभूल 56 वर्षीय अपने दो बेटों के साथ रहते थे। रामभूल का छोटा बेटा ललित नपुंसक है। पांच साल पहले उसकी शादी हुई थी लेकिन उसकी पत्नी उसे छोड़कर चल गई। इसके बाद ग्रामीण उसे ताना देने लगे। पिता ने बेटे का इलाज करवाया लेकिन वह ठीक नहीं हुआ और मानिसक रूप से परेशान रहने लगा। 

शुक्रवार की रात ललित अपने पिता के कमरे में सोया था। देर रात को वह उठा और धारदार हथियार से पिता पर हमला कर कत्ल कर दिया। इसके बाद वह मौके से फरार हो गया। सुबह के समय रामभूल के बड़े बेटे अरूण ने पिता का शव चारपाई पर खून से लथपथ हालत में पड़ा देखा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आरोपी ललित को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल किया है। 

लोगों के ताने से परेशान था
पुलिस ने बताया कि गांव के कुछ लोगों ने ललित से कहा कि उसके पिता ने उसे नपुंसक बनाया है। पिता द्वारा दी गई दवा से वह नपुंसक बना है। इसके बाद से वह पिता से नफरत करने लगा। पिता उसे कुछ भी कहते तो वह लड़ने झगड़ने लगता था।

Post a Comment

0 Comments