रेलवे की फेक वेबसाइट बनाकर कई बेरोजगारों को लगाया चूना, शिकायत पर पकड़ाया

रायपुर। राजधानी रायपुर की मोदहापारा पुलिस ने एक ऐसे शातिर को गिरफ्तार किया है जिसने कई बेरोजगारों को रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर उनसे लाखों स्र्पयों की ठगी की। इस श्ाातिर ठग ने अपने इस काम को अंजाम देने के लिए बकायदा रेलवे की एक फर्जी वेबसाइट बनाई और रेलवे के आपदा प्रबंधन विभाग में विभिन्न् पदों की भर्ती का फर्जी विज्ञापन जारी किया।
रेलवे की फेक वेबसाइट बनाकर कई बेरोजगारों को लगाया चूना, शिकायत पर पकड़ाया

 राजनांदगांव के एक पीड़ित युवक की शिकायत पर जब मामले की छानबीन की गई तब मामले का खुलासा हुआ और शातिर ठग को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। अब पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक राजनांदगांव के रहने वाले प्रार्थी पंचराम रजक ने थाना मौदहापारा में रिपोर्ट दर्ज थी। उसने रिपोर्ट में बताया कि ऑनलाईन विज्ञापन के द्वारा रेल्वे के आपदा विभाग की नौकरी निकाली गई थी।

उक्त वेबसाईड के द्वारा आवेदन पत्र मंगाया गये थे जिसमें प्रार्थी के पुत्र द्वारा आवेदन पत्र भरा गया था। आवेदन पत्र के बाद वेबसाइट लिंक में परीक्षा आनलाइन कहीं से भी देने की सुविधा बताई गई थी। इसके बाद ऑनलाइन परीक्षा भी ली गई।
परीक्षा के लगभग एक माह बाद रेल्वे साईड से इंटरव्यू का दिनांक पता चला जो कि 5 दिसंबर 2018 से 09 दिसंबर 2018 तक था। इंटरव्यू के लिए प्रार्थी और उसका पुत्र रायपुर के कृष्णा काम्पलेक्स पहुंचे। वहां पहले से ही लगभग 300 से ज्यादा उम्मीदवार मौजूद थे।

इंटरव्यू के बाद वहां जो मौजूद खुद को रेलवे अधिकारी बताने वाले शख्स ने कहा कि नौकरी के लिये इंटरव्यू ही काफी नहीं है। आप लोग बहुत मेहनत से यहां तक पहुंचे हैं, लेकिन बिना रकम के नौकरी की फाईनल लिस्ट संभव नहीं है। पैसे की बात कही गई और कुल रकम तीन लाख स्र्पये की मांग की गई।

Post a Comment

0 Comments