Ind vs NZ भारत का दूसरा बल्लेबाज पहुंचा पवेलियानए बनाए 45 रन

खेल डेस्क. भारत-न्यूजीलैंड के बीच 5 टी-20 की सीरीज का आखिरी मैच आज माउंट माउनगुई में खेला जा रहा है। टीम इंडिया ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया। भारत के रोहित शर्मा क्रीज पर हैं। संजू सैमसन 2 रन बनाकर पवेलियन लौटे। कुगलिन की गेंद पर सेंटनर ने उनका कैच लिया। सैमसन वापसी के बाद लगातार तीसरे मैच में फ्लॉप हुए। वे चौथे टी-20 में 8 रन ही बना सके थे। उससे पहले जनवरी में श्रीलंका के खिलाफ 6 रन बनाए थे।

भारतीय टीम के प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव हुआ। नियमित कप्तान विराट कोहली की जगह रोहित शर्मा टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। रोहित ने टॉस के दौरान कहा कि वे तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे। पिछले मैच में ओपनिंग करने वाले संजू सैमसन उसी क्रम पर बल्लेबाजी करेंगे। दूसरी ओर, न्यूजीलैंड ने अपने प्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया।

भारत के पास सीरीज 5-0 से जीतने का मौका


भारत यह मैच जीतता है, तो वह पांच मैच की सीरीज में क्लीन स्वीप करने वाला पहला देश होगा। टीम भी पहली बार इतनी बड़ी टी-20 सीरीज खेल रही है। इससे पहले 5 मैच की दो सीरीज हुईं, जिनमें इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड और वनुअतु टीम ने मलेशिया को हराया है। एक बार 7 टी-20 की सीरीज खेली गई, जिसमें मलावी ने मोजाम्बिक को शिकस्त दी। टीम इंडिया ने इस साल खेले अपने सभी 7 मैचों में जीत हासिल की है, जबकि न्यूजीलैंड को पिछले 5 मैच में हार मिली है।

दोनों टीमें:


भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), संजू सैमसन, लोकेश राहुल (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, शिवम दुबे, वॉशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी, शार्दुल ठाकुर।

न्यूजीलैंड : मार्टिन गुप्टिल, कॉलिन मुनरो, टिम शिफर्ट (विकेटकीपर), रॉस टेलर, टॉम ब्रूस, डेरेल मिशेल, मिशेल सेंटनर, स्कॉट कुगलिन, टिम साउदी (कप्तान), ईश सोढ़ी, हामिश बेनेट।

भारत को सीरीज में 4-0 की अजेय बढ़त

सीरीज का पहला मैच ऑकलैंड में हुआ, जहां भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया था। दूसरा मुकाबला भी इसी मैदान पर हुआ, जिसमें भारत ने 15 गेंद शेष रहते 7 विकेट से जीत हासिल की थी। तीसरा और चौथा मैच टाई रहा, जिनका नतीजा सुपर ओवर में निकला। हैमिल्टन टी-20 में रोहित शर्मा ने लगातार दो छक्के लगाकर टीम को न्यूजीलैंड में पहली बार सीरीज जिताई थी। जबकि चौथे वेलिंगटन मैच में राहुल और कोहली ने जीत दिलाई थी।

Post a Comment

0 Comments