Breaking News

... तो सदस्य पूरे नहीं हो पा रहे भाजपा में, सदस्यता अभियान की तारीख 20 अगस्त तक बढ़ाई

 रीवा। भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता अभियान का क्रम अब आगे 20 अगस्त तक चलाया जाएगा। 6 जुलाई से शुरू हुआ सदस्यता अभियान 11 अगस्त को समाप्त हो जाना था। लेकिन आशा जनक सदस्यता अभियान न हो पाने के कारण संगठन ने एक बार फिर मौका देते हुए यह तारीख बढ़ाकर 20 कर दी है। संगठन ने कहा है कि पिछली सदस्यता से कम से कम 10 फीसदी ज्यादा सदस्य संख्या बढ़ाना अति आवश्यक है। 
उल्लेखनीय है कि रीवा लोकसभा क्षेत्र अंतर्गत भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता अभियान का शुभारंभ 6 जुलाई को किया गया था। इस दौरान यह लक्ष्य रखा गया था कि प्रति विधानसभा 25 हजार से ज्यादा सदस्यों की संख्या और बढ़ाना है, यानी कि पूरे लोकसभा क्षेत्र में कुल 2 लाख से ज्यादा नए सदस्य जोडऩे हैं। जबकि पुराने सदस्यों की संख्या 4 लाख से ज्यादा थी। 

कुल मिलाकर इस बार का टारगेट 6 लाख सदस्य बनाना था। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि पिछली सदस्य संख्या 4 लाख 68 हजार होना भाजपा संगठन बता रहा था। इसमें महत्वपूर्ण मुद्दा यह था कि संगठन को ही लगभग 68 हजार सदस्य ढूढ़े नहीं मिल रहे थे। इस मामले को विंध्य भारत ने गंभीरता के साथ उजागर भी किया था। 
जिसे भाजपा संगठन ने गंभीरता से लेते हुए यह कहा था कि इस बार जो भी सदस्य बनाएं जाएं, पुख्ता रहें। कोई भी व्यक्ति उनके मोबाइल पर जब कॉल करे तो वे भारतीय जनता पार्टी का अपने को सदस्य होना स्वीकारें। पिछली बार भी सदस्यता का सिस्टम लगभग-लगभग वही था। लेकिन पिछले बार फार्म भराने एवं मिस्डकॉल को लेकर कुछ भ्रांतियां भी हो गई थीं। एक मिस्ड कॉल पर कई मेम्बर बन गए थे। वहीं कई ऐसे भी मामले सामने आए हैं जिसमें लोगों ने अपने नम्बर ही बदल दिए। जबकि इसके विपरीत सूत्रों का कहना था कि सदस्य संख्या बढ़ाने के लिए पिछली बार संगठन के नेताओं ने अपनी इज्जत बचाने और वाहवाही लूटने के लिए अपने हिसाब से मेम्बर बना लिए थे। 68 हजार सदस्यों के न मिलने के मामले को संगठन ने खासी गंभीरता से लिया था। लिहाजा इस बार फार्म भरने के पश्चात उसी नम्बर से मिस्ड कॉल किया जाना था जो नम्बर उसमें लिखा हुआ है। माना जा रहा है कि ऐसा करने से सदस्यों की उपलब्धता आसानी से हो जाएगी। 

जिला संगठन को मिली फटकार

गत दिवस प्रदेश अध्यक्ष ने सदस्यता अभियान को लेकर जिले में समीक्षा बैठक भी बुलाई थी। इस मामले को लेकर प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने स्थानीय संगठन पदाधिकारियों की क्लास ले ली। साथ ही संभागीय संगठन मंत्री से भी यह कहा कि यहां मामला गंभीर है और वे इसे गंभीरता के साथ देखें। साथ ही यही से सदस्यता अभियान तारीख बढ़ाए जाने की घोषणा भी की गई। इस मामले में सूत्र बताते हैं कि ऐसा केवल रीवा जिले भर में नहीं है। बल्कि पूरे प्रदेश की एक जैसी ही स्थिति है। प्रदेश अध्यक्ष ने भाजपा जिला अध्यक्ष से दो टूक कहा है कि जो लक्ष्य दिया गया है अब उसे किसी भी हालत में पूरा करना है। लिहाजा भारतीय जनता पार्टी जिला संगठन इकाई ने आज रविवार से एक बार फिर सक्रिय होने के लिए सभी नेताओं को आगाह किया है। वहीं जिला सदस्यता प्रभारी महाबली गौतम को भी कहा गया है कि वे लक्ष्य पूरा करने के लिए जी-जान एक कर दें। 

कमी छिपाने नाम दिया सांसदों, विधायकों की व्यस्तता को

भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष किसी मामले में कभी कोई बात करते नहीं। लिहाजा इस मुद्दे पर सूत्र बताते हैं कि भारतीय जनता पार्टी के संगठन द्वारा सदस्यता अभियान बढ़ाए जाने के मामले के पीछे अब विधायकों और सांसद को सामने ला दिया गया है। कहा गया है कि जिस दौरान सदस्यता अभियान संचालित हो रहा था उस समय मप्र और देश में क्रमश: विधानसभा और लोकसभा चल रही थी। लिहाजा विधायक और सांसद क्षेत्र में विशेष समय नहीं दे पा रहे थे। जिसकी वजह से कुछ सदस्य संख्या घटी है। अब सांसद और विधायक एकसाथ क्षेत्र में जाकर सदस्यता अभियान को गति देंगे तो 10 दिन में प्रति विधानसभा निर्धारित लक्ष्य 25 हजार को भी पार कर जाएगा। वहीं आज रविवार से ही यह सिलसिला गुढ़ से शुरू भी किया गया है। सूत्रों का कहना है कि अभी तक पिछली तुलना के सदस्य भी नहीं बन पाएं हैं। 

फीडिंग को लेकर मच गया था बवाल

भारतीय जनता पार्टी जिला कार्यालय में सभी 8 विधानसभाओं के सदस्यों के नाम फीडिंग को लेकर उस समय हास्यास्पद स्थिति बन गई थी जब प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह और प्रदेश संगठन मंत्री सुहास भगत ने लिस्ट मांग ली। आधी-अधूरी लिस्ट देखकर संगठन से जुड़े हुए पदाधिकारी समेत जिला अध्यक्ष की क्लास ले ली। साथ ही यह भी कहा कि प्रतिदिन की फीडिंग रिपोर्ट प्रदेश कार्यालय पहुंच जाना चाहिए। उधर सूत्र बताते हैं कि फीडिंग की स्थिति अभी फिलहाल दयनीय है। सभी विधानसभा क्षेत्रों में फीडिंग ऑपरेटर न होने की स्थिति में मैनुअल फीडिंग लेकर मण्डल अध्यक्ष सीधे कार्यालय पहुंच रहे हैं। जिसकी वजह से यह स्थिति बनी। सूत्र बताते हैं कि वर्तमान में जो स्थितियां हैं उसके हिसाब से अगले 10 दिन बाद भी पूरी फीडिंग हो पाना संभव नहीं दिखता। अब सवाल यह उठता है कि क्या इस स्थिति में सदस्यता अभियान वृद्धि का लक्ष्य पूरा हो पाएगा। यहां यह भी काबिले गौर है कि सदस्य संख्या मामले में भारतीय जनता पार्टी विश्व की नम्बर वन पार्टी बनी हुई है। लिहाजा पार्टी का प्रयास है कि पूरे देशभर में एक बार फिर लक्ष्य पूरा करते हुए विश्व की नम्बर एक पार्टी बन जाए। 

No comments