Breaking News

अपने ही माता-पिता पर किशोरी ने लगाया अश्लीलता का आरोप, दंपत्ति गिरफ्तार

रीवा। छग बस्तर निवासी दत्तक किशोरी ने जो काम कर दिखाया उसे  गोद लेने वाले दंपत्ति को एक बार सोचना जरुर पड़ेगा। मामला समान थाना का है, जहां एक दत्तक किशोरी ने अपने ही माता-पिता पर अश्लील हरकतें करने का आरोप लगाया। पुलिस आरोपित पति-पत्नी के विरुद्ध छेड़छाड़, पास्को एक्ट के साथ ही हरिजन एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर न्यायालय में भेज दिया।  
अपने ही माता-पिता पर किशोरी ने लगाया अश्लीलता का आरोप, दंपत्ति गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि आरोपी शिव शंकर पटेल 60 वर्ष और उसकी पत्नी आशा पटेल 55 वर्ष निवासी छत्रपति नगर रीवा को छेड़छाड़, पास्को एक्ट एंव हरिजन एक्ट के अपराध पर न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया। आरोपी के विरुद्ध उनकी 14 वर्षीय आदिवासी समाज की दत्तक पुत्री ने अश्लील हरकत करने और महिला को आरोपी पति का सहयोग देने का आरोप लगाया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी पति-पत्नी छग के बस्तर जिला अंतर्गत धनपुरी थाना क्षेत्र के सड़कपारा मुरजिला में रहता था। लगभग 25 वर्षो से वहीं बर्तन बेचने का व्यवसाय करता था। दोनो के बीच कोई संतान नहीं हुई, संतान प्राप्ति के लिए दंपत्ति डॉक्टर से लेकर मंदिर, मस्जिद, संत-फकीर तक चक्कर काट कर हार मान ली। इसी बीच वहीं दंपत्ति का पड़ोसी आदिवासी परिवार से संबंध हो गया। दोनो के बीच परिवरिक रिश्ते जुड़ गये। आदिवासी की छ लड़कियां थी, जिनमे से एक अश्लीलता का आरोप लगाने वाली भी है। 
पुलिस ने बताया कि आरोपीगण आदिवासी परिवार से उक्त किशोरी को अपनी दत्तक पुत्री बनाकर रखने के लिए ले लिया था। कुछ दिन वहां रहने के बाद चार माह पूर्व दंपत्ति किशोरी को लेकर रीवा आया। पुलिस ने बताया कि घटना 22 जुलाई की है। किशोरी अपने घर से बिना बताये गायब हो गई। जिसकी तलास दंपत्ति करते रहे जब नहीं मिली तो थाना में आकर शिकायत दर्ज करवाई। दंपत्ति जब लौट कर घर  पहुंचे तो कुछ ही देर में किशोरी लौट आई, जिसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस जब थाना में लड़की का बयान लिया तो अपने रक्षक पर ही अश्लीलता का आरोप लगाने लगी।
 पुलिस ने 164 के तहत किशोरी का बयान दर्ज कर दंपत्ति के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि किशोरी सहित उसके घरवालों को आदिवासी समाज ने बहिष्किृत कर दिया था। बताया गया कि किशोरी अपने माता-पिता के साथ रहते समय गांव से ही एक युवक संग भाग गई थी। जिसे काफी तलास करने पर पाया गया था। पुलिस ने बताया कि जिस युवक संग गई थी उस पर धनपुरी थाना में अपहरण एंव दुष्कर्म का अपराध दर्ज है। आरोपी को पुलिस पकड़ कर न्यायालय में पेश कर दी थी। किशोरी के घर से भागने पर समाज ने उसके पिता सहित परिवार को समाज से निकाल दिया था। ऐसे में रीवा निवासी दंपत्ति किशोरी को शरण दी और अपनी दत्तक पुत्री मान लिया था। 
मंगलवार को समान पुलिस ने किशोरी को उसके पिता के सुपुर्द कर दिया। पिता को पुलिस द्वारा सूचना देकर बुलाया गया था। पिता ने पुलिस को बताया कि किशोरी के भागने पर समाज ने उसे निकाल दिया। समाज से जुडऩे के लिए रीति के अनुसार उसे 80 हजार रुपये कर्ज लेकर समाज के बीच खर्च करना पड़ा था, तब जाकर समाज से उसे अपनाया। 

No comments