Breaking News

आटो पर गिरा पेड़, चालक घायल, तार टूटने से फैला करंट

रीवा। मंगलवार की बारिस में हुए हादसे से केंद्रीय विद्यालय के न जाने कितने बच्चे काल के गाल में समा जाते। गनीमत रही रही कि दुघर्टना के समय एक भी बच्चा वहां मौजूद नहीं था। बच्चों को लेने जा रहा आटो पेड़ की चपेट में आ गया। आटो क्षतिग्रस्त हो गया गनीमत रही कि चालक को मामूली चोटे आई। आज सुबह से ही बारिस हो रही थी। दोपहर लगभग दो बजे की बात है। केंद्रीय विद्यायल में बच्चो की छुट्टी का समय था। बच्चों को लेने उनके आटो, स्कूल वैन जा विद्यायल की ओर जा रहे थे। 

जंयती कुंज मार्ग में वन परिक्षेत्र लिपिक राजीव सक्सेना के घर के सामने लगा बबूल को पेड़ बारिस होने से धरासाई हो गया। उसी वक्त वहां से आटो क्रमांक एमपी 17 आर 5702 बच्चों के लेने स्कूल की ओर जा रहा था, जो उसकी चपेट में आ गया। आटो चालक लालजी मांझी पुत्र तुलसी मांझी निवासी निपनिया बाल-बाल बच गया। आटो के छत को धरासाई करते हुए पेड़ उसकी पीठ पर जा गिरा, जिससे उसको मामूली चोटे आई। पेड़ के गिरने से वहां से गुजर रहा बिजली का तार टूट गया जिसकी वजह से सड़क, पेड़ एंव आस-पास करंट फैल गया। उसी दौरान स्कूल की छुट्टी हो गई। 

नहीं मान रहे थे बच्चे, पुलिस ने संभाला मोर्चा

स्कूल की छुट्टी होते ही बच्चे अपने-अपने वाहन की ओर दौडऩे लगे। जो छात्र अपने वाहन से थे वे अपने वाहन को लेकर वहां से गुजरने का प्रयास कर रहे थे। मौके पर मौजूद लोगों ने रोकने का प्रयास किया। उसके बाद भी बच्चे नहीं मान रहे थे। घटना की जानकारी लगते ही सिविल लाइन थाना से एफआरबी, पीसीआर मौके पर पहुंच गई और मोर्चा संभाल लिया। घटना स्थल का जायजा लेकर बच्चों को निकलने के लिए राजनिवास की ओर का मार्ग खुलवा दिया। साथ ही विद्युत विभाग को सूचना देकर विद्युत सप्लाई बंद करवा दी। जब जाकर स्थानीय लोगों ने राहत की सांस ली। 

जेसीबी की मदद से निकली आटो

आटो भारी भरकम पेड़ के नीचे दबा हुआ था। जिसे निकालने पुलिस को जेसीबी की मदद लेनी पड़ी। ननि को सूचना दिये जाने पर एक घंटे तक ननि अमले का कोई भी पंरिदा मौके पर नहीं पहुंचा। मजबूर पुलिस को वहीं काम कर रहे एक जेसीबी को पकड़ कर पेड़ के नीचे दबे आटो को निकलवाना पड़ा। साथ ही पेड़ को जेसीबी की मदद से सड़क के किनारे कर मार्ग खुलावा। 

No comments