Breaking News

पुलिस का नहीं खौफ, खुले आम घूमते हैं जिला बदर के आरोपी

 रीवा। विधानसभा चुनाव के दौरान जिले के पुलिस ने अधिकारियों के आगे अपनी वाहवाही लेने जिला बदर के कई प्रकरण बनाये। तीन-चार अपराधिक प्रकरण भी जिनके थे उनकी भी जिला बदर की डायरी बना कर एसपी कार्यालय में पेश की। एसपी के प्रतिवेदन पर तत्कालीन कलेक्टर ने जिला बदर का फरमान जारी कर दिया। लेकन जितने भी बदमाशों को कलेक्टर ने जिला बदर किया वह शहर में घूमते नजर आये।  पुलिस और कानून का किचिंत मात्र उनको भय नहीं रहा। 
पुलिस का नहीं खौफ, खुले आम घूमते हैं जिला बदर के आरोपी

जिस तरह से पुलिस जिला बदर के आरोपियों को पकड़ रही है, उससे यह प्रतीत होता है कि कहीं न कहीं पुलिस की कार्यप्रणाली में त्रृटि है। गुरुवार को सिरमौर पुलिस ने जिला बदर के आरोपी शिवम उर्फ शिब्बू सिंह पुत्र दिनेश सिंह निवासी राजगढ़ को सिरमौर से ही गिरफ्तार किया। इसी प्रकार बिछिया पुलिस ने जिला बदर के आरोपी बेटा उर्फ नरेंद्र पुत्र बब्बू स्वीपर निवासी  गुढ़ चौराहा कोतवाली को गिरफ्तार किया है। बताया गया कि पकड़े गए आरोपियों पर १०-१० हजार रुपये का ईनाम घोषित था। क्या पुलिस ईनाम के लालच में जिला बदर के आरोपियों को ढ़ील दे रखी है? यह सोच का विषय जरुर है।

6 पेटी शराब के साथ तीन गिरफ्तार

सिविल लाइन पुलिस ने बीती रात मानस भवन के पास शराब की डिलेवरी करते हुए तीन युवकों को गिरफ्तार कर लिया। गुरुवार के दिन आरोपियों को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया। पुलिस ने बताया कि मुखबिर ने सूचना दी कि मानस भवन के पास स्कूटी सवार दो युवक शराब की डिलेवरी लेने आये हैं। सूचना पर मौके में पहुंची पुलिस ने बाबू चौबे निवासी अमहिया, पवन लोनिया निवासी कबाड़ी मोहल्ला और राहुल परौहा निवासी तिगरा को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों से शराब सहित परिवहन के लिए उपयोग में लाई गई स्कूटी भी जब्त कर ली है। 

No comments