Breaking News

स्कूल टीचर पर छेड़खानी का आरोप, थाने में शिकायत पर दर्ज हुआ मामला

रीवा। गुरू शिष्य के रिश्ते को तार-तार करने का एक मामला गुरूवार को सिविल लाइन थाने में पहुंचा और स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं के साथ उनके परिजनों ने थाने में शिकायत करते हुए आरोप लगाया है कि मार्तण्ड हायर सेकण्डरी स्कूल क्रमांक-3 के टीचर अरूण मिश्रा द्वारा लगातार स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं के साथ छेड़खानी की जा रही है और उसकी हरकत से छात्राएं परेशान हैं। शिकायत के आधार पर पुलिस ने उक्त टीचर के खिलाफ छेड़खानी का मामला दर्ज करके कार्रवाई कर रही है। पीड़ित छात्राओं ने पुलिस को जानकारी देते हुए बताया कि उक्त टीचर की नीयत ठीक नहीं है और क्लासरूम में न सिर्फ वह अजीब किस्म के इशारे उनकी तरफ करता है बल्कि आने और जाने के दौरान उन्हें धक्का देकर शरीर में हरकतें भी करता है। जिससे वे काफी परेशान हैं। उन्होंने ने बताया कि टीचर की इस हरकत से स्कूल प्रबंधन भी वाकिफ है। 
थाने में बैठे हुए शिक्षक।
पूर्व में कई बार किया हरकतें 
मार्तण्ड स्कूल के जिस टीचर के खिलाफ छात्राओं ने शिकायत की है और मामला दर्ज हुआ है उसकी हरकतें कोई नई नहीं है। छात्राओं ने बताया कि वह पूर्व में भी इस तरह की हरकतें कई बार किया था। स्कूल के लोगों की समझाइश के बाद उन्होंने टीचर की हरकतों से घर के लोगों को अवगत नहीं कराया और न ही कोई शिकायत की थी। बल्कि उन्हें माफ कर दिया था। लेकिन टीचर अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहा था जिसके चलते उन्हें कानून का दरवाजा खटखटाना पड़ा है। 
 पहला मामला नहीं
 छात्राओं के साथ छेड़खानी किए जाने का यह कोई पहला मामला नहीं है। पूर्व में भी इस तरह की शिकायतें स्कूल की छात्राओं द्वारा अपने ही टीचर के खिलाफ कर चुकी हैं। एपीएस यूनिर्वसिटी में टीचर के खिलाफ छेड़खानी का मामला छात्राओं की शिकायत पर दर्ज हुआ था तो वहीं टीआरएस कालेज की छात्राओं ने भी टीचर के खिलाफ छेड़खानी की शिकायत की थी। अब मार्तण्ड स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं ने शिकायत की। जिस तरह से स्कूलों में पढ़ने वाली छात्राओं के साथ टीचरों की हरकतें व नियत सामने आ रही है यह शिक्षा जैसे पवित्र मंदिर में अच्छे संकेत नहीं हैं और विभाग पर इसके लिए चिंतन-मंथन करना चाहिए।
वर्जन
 छात्राओं ने टीचर के खिलाफ शिकायत की है शिकायत के आधार पर छेड़खानी का मामला दर्ज किया जा रहा है। 
दिनेश जाटव, थाना प्रभारी, सिविल लाइन। 
 विभागीय स्तर पर जांच कराई जाएगी। दोषी पाए जाने पर शिक्षक के विरूद्ध विधि अनुसार कार्रवाई की जाएगी।
अंजनी त्रिपाठी, जेडी, स्कूल शिक्षा, रीवा।  

No comments