Sunday, June 26, 2022

hindinews11

HomeUncategorizedएक्शन, सस्पेंस व थ्रीलर से लैस है ऋतिक-टाईगर की मूवी वार, समय...

एक्शन, सस्पेंस व थ्रीलर से लैस है ऋतिक-टाईगर की मूवी वार, समय और पैसा होगा वसूल

अगर आप गांधी जयंती पर रिलीज की गई ऋतिक और टाइगर श्राफ स्टारर वाॅर मूवी देखने की सोच रहे हैं तो बिल्किुल सही सोच रहे हैं। क्योंकि इस मूवी में सिर्फ एक्शन ही नहीं बल्कि सस्पेंस व थ्रीलर भी देखने को मिलेगा। यानी कि पूरी फिल्म में आपके मन में यह सवाल बना रहेगा कि आखिर अंत में क्या होने वाला है। मूवी का विलेन ऋतिक है या फिर टाइगर श्राफ। 
एक्शन, सस्पेंस व थ्रीलर से लैस है ऋतिक-टाईगर की मूवी वार, समय और पैसा होगा वसूल
साथ ही मूवी में ऋतिक व टाइगर के एक्शन सीन आपका जमकर मनोरंजन करने वाले हैं। यानी कि कुल मिलाकर आपका पूरा पैसा वसूल होगा और साथ ही समय का भी आपको पता नहीं चलेगा। पूरी फिल्म को लास्ट तक देखने सीट पकड़कर बैठेंगे कि अब मूवी में क्या मोड़ आने वाला हैं। 
मूवी का टीजर जब से जारी किया गया था तभी से ऋतिक व टाइगर के फैंस इस वार को देखने काफी उत्सुक दिखे। मूवी को लेकर यह कयास लगाया जा रहा था कि बालीवुड के दो एक्शन स्टार जिस मूवी में दिखेंगे वह मूवी कमाल की होगी ही। लिहाजा मूवी ठीक फैंस के विचार के अनुसार ही निकली और मूवी को लोगों द्वारा काफी अच्छा बताया गया। मूवी की जहां कहानी जोरदार है तो वहीं शूटिंग की गई जगह भी मूवी पर चार चाॅद लगा रहे हैं। साथ ही मूवी में वाणी कपूर का पोल डांस, ऋतिक व टाइगर का एक्शन काफी कमाल का है।

क्या है कहानी

फिल्म वार की कहानी भारतीय सेना के स्पेशल मिशन हैण्डल करने वाले मेजर कबीर लूथरा यानी कि ऋतिक रोशन द्वारा सेना से गद्दारी करके बागी हो जाते हैं। कबीर सेना छोड़ फरार हो जाते हैं और वह देश के ही दुश्मन बन जाते हैं और भारत को खत्म करने की सोचते है। ऐसे में सेना के खालिद खान यानी कि टाइगर श्राफ को कर्नल लूथरा यानी कि आुशतोष राणा यह आदेश देते हैं कि वह कबीर को जहां कहीं भी हो ढूढ़ निकाले और उसे खत्म कर दें।
आपको बताते चले कि खालिद खान मेजर कबीर से ही ट्रेनिंग ली थी और यह दोनों एक-दूसरे की ताकत व कमजोरी से अच्छी तरह से वाफिक थे। खालिद के पिता एक टेरिस्ट थे। जिस वजह से मेजर कबीर ने खालिद को अपनी टीम में लेने के लिए हजारों बार सोच विचार किया और परीक्षा ली थी। परीक्षा में खालिद खरा उतरता है जिसे कबीर अपनी टीम का हिस्सा बना लेते हैं।  
अब जब खालिद को उसके गुरू यानी कि मेजर कबीर को ही जान से मारने के आर्डर मिलते हैं। तो उसके दिमाग में एक सवाल यह घूम रहा है कि देश के लिए मर मिटने वाला कबीर आखिर बागी कैसे हो गया। इसके पीछे न कुछ वजह जरूर रही होगी। आखिर देश पर अपनी जान कुर्बान करने वाला कबीर बागी क्यो हो गया। आखिर क्या कारण कि आज वह अपने ही देश को खत्म पर तुल गया। इन सभी सवालों का जवाब ढूढ़ने खालिद निकल पड़ता है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular